सरकारी प्राइमरी स्‍कूलों में पढ़ाई को दिलचस्‍प बनाने के लिए नए सत्र से होंगे कई काम, जानिए SCERT का प्‍लान

विज्ञापन
savitri
Caption Two
3 / 3
maneesh

देवरिया टाइम्स

बेसिक शिक्षा परिषद के स्कूलों में चलने वाली पाठ्य पुस्तकों की कहानियों की ऑडियो फाइल बनाई जाएगी। ये ऑडियो फिर सभी स्कूलों को भेजे जाएंगे ताकि बच्चों को दिलचस्प अंदाज में पढ़ाया जा सके। इस संबंध में राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद ने निर्देश जारी कर दिए हैं।

ऑडियो क्लिप 3 से 7 मिनट की होनी चाहिए। इसमें पाठ्य पुस्तक के किसी अंश, महत्वपूर्ण तथ्यों व क्रिया कलापों को शामिल करते हुए बनाई जाएगी। इसकी रिकार्डिंग में बैक ग्राउण्ड संगीत, मिमक्री व साउण्ड इफेक्ट भी डाला जाएगा। विज्ञान में ऊर्जा, प्रकाश, कॅम्प्यूटर, रेशों से वस्त, ऊष्मा व ताप, भोजन, स्वास्थ्य व रोग, वायु जैसे विषयों की कहानियों को लिया जाना है वहीं पृथ्वी व हमारा जीवन, अंग्रेजी, हिन्दी, हमारा पर्यावरण, हमारा परिवेश व हमारा इतिहास, कृषि विज्ञान, गृह शिल्प समेत गणित विषय तक में, ये ऑडियो क्लिप बनाई जानी है। इसके लिए शिक्षकों का चयन कर लिया गया है।

बीते दिनों एससईआरटी ने कहानी सुनाओ प्रतियोगिता का आयोजन किया था, जिसमें शिक्षकों ने पाठ्यक्रम में शामिल पाठों पर ही कहानियां सुनाई थी। जिसमें अपने मोबाइल से ही तरह-तरह के साउण्ड इफेक्ट, कठपुतली, डायलॉग और विभिन्न तरह के कटआउट का इस्तेमाल कर इसे दिलचस्प बनाया था। मसलन एक शिक्षिका ने रानी लक्ष्मीबाई की कहानी सुनाने के लिए वैसा ही रूप धरा और घोड़ों की टाप, तलवारबाजी के साउण्ड इफेक्ट मोबाइल पर चलाकर उसे दिलचस्प बनाया।

विज्ञापन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here