पंचायत चुनाव के पहले चरण के लिए नामांकन आज से


देवरिया टाइम्स

पंचायत चुनाव में पहले चरण की नामांकन प्रक्रिया शनिवार 3 अप्रैल से शुरू हो रही है। रविवार तक चलने वाली इस प्रक्रिया के तहत राज्य के 18 जिलों में ग्राम प्रधान, ग्राम पंचायत, क्षेत्र व जिला पंचायत सदस्य के पदों के लिए उम्मीदवार अपने नामांकन दाखिल करेंगे। इन दोनों दिनों में इन 18 जिलों के सभी विकास खंड मुख्यालयों पर सुबह 8 बजे से शाम 5 बजे के बीच नामांकन पत्र दाखिल किये जाएंगे। 

नामांकन स्थल से दो सौ मीटर के दायरे से पहले रोकी जाए भीड़

राज्य निर्वाचन आयोग के अपर निर्वाचन आयुक्त वेद प्रकाश वर्मा ने सभी जिलाधिकारियों को निर्देश जारी किए हैं कि नामांकन के दिनों में विकास खण्ड मुख्यालय आने वाले उम्मीदवारों के समर्थकों की भीड़ को नामांकन स्थल दो सौ मीटर की परिधि के बाहर ही रोक दिया जाए। नामांकन स्थल पर उम्मीदवार, उसके चुनाव अभिकर्ता, प्रस्तावक और मदद के लिए एक अन्य व्यक्ति को ही आने की अनुमति दी जाए।

बगैर मास्क के प्रवेश की अनुमति नहीं

नामांकन पत्र प्रस्तुत करने के लिए आने वाले व्यक्तियों के लिए  मास्क लगाना जरूरी होगा। मास्क के बिना रिटर्निंग अधिकारी के कक्ष में आने की अनुमति नहीं दी जाएगी नामांकन पत्र प्रस्तुत करने  के लिए केवल उम्मीदवार और  उसके साथ एक अन्य व्यक्ति को ही रिटर्निंग अधिकारी के कक्ष में प्रवेश की अनुमति दी जाएगी। अन्य प्रत्याशियों और उनके साथ आने वाले व्यक्तियों को प्रतीक्षा के लिए कक्ष के बाहर बैठने की व्यवस्था  इस प्रकार की जाएगी जिससे उचित सामाजिक दूरी का पालन हो सके।

नामांकन पत्र प्रस्तुत करने के लिए नियम समय में आने वाले सभी उम्मीदवारों को उनके आने के क्रम के अनुसवार रिटर्निंग आफिसर द्वारा हस्ताक्षरित पर्ची दिए जाने के बाद  और बड़े हाल में सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए  बैठाया जाएगा और उक्त क्रम में ही उम्मीदवारों को एक-एक करके रिटर्निंग  आफिसर के कक्ष में प्रवेश दिया जाएगा।
 
इन जिलों में नामांकन आज से

सहारनपुर, गाजियाबाद, रामपुर, बरेली,
हाथरस, आगरा, कानपुर नगर, झांसी, महोबा,
प्रयागराज, जौनपुर
और भदोही,रायबरेली, हरदोई, अयोध्या,
श्रावस्ती, संतकबीरनगर, गोरखपुर।

कोविड संक्रमित मरीज भी कर सकेगा नामांकन

राज्य निर्वाचन आयोग ने कोरोना संक्रमण से बचाव की हिदायत देते हुए कोविड-19 के प्रोटोकाल का अनुपालन करते हुए गाइडलाइन जारी की है। इस गाइडलाइन के अनुसार अगर कोई कोविड संक्रमित रोगी या उसके साथ रह रहा व्यक्ति चुनाव लड़ना चाहता है तो वह अपना नामांकन पत्र अपने प्रस्तावक या किसी अन्य प्राधिकृत व्यक्ति द्वारा रिटर्निंग आफिसर को प्रस्तुत कर सकता है। ऐसे लोग रिटर्निंग अधिकारी के समक्ष खुद नहीं आएंगे। रिटर्निंग अधिकारी के कक्ष में नामांकन पत्र प्रस्तुत करने के लिए आने वाले व्यक्तियों के लिए साबुन, पानी और सेनेटाइजर की व्यवस्था होगी और इसके प्रयोग के लिए कर्मचारियों की तैनाती की जाएगी।

spot_img

Similar Articles

Advertismentspot_img

ताजा खबर