देशभक्ति की भावना को जागृत करता हर घर तिरंगा-रणधीर गुप्ता



देवरिया टाइम्स।
सलेमपुर नगर में आर्थिक प्रकोष्ठ के जिला सहसंयोजक रणधीर गुप्ता के नेतृत्व में पूरे नगर पंचायत में तिरंगा यात्रा बाइक रैली के माध्यम से निकाला गया।
तिरंगा यात्रा सोनबरसा मोड़ से शुरू होकर हरैया तक गयी । फिर हरैया से आकर सोनबरसा मोड़ पर समापन हुआ। यह तिरंगा यात्रा पूरे शहर में लोगों के बीच बेहद आकर्षण का केंद्र बना रहा। भारत माता की जय तथा वन्देमातरम के जयघोष के साथ चल रहे तिरंगा यात्रा गांधी चौक पहुँची जहाँ गांधी जी की प्रतिमा पर माल्यानपर्ण किया गया।
रणधीर गुप्ता ने कहा कि


आजादी का अमृत महोत्सव प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से देश की आजादी के 75 वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में देश के प्रत्येक नागरिक को 13 से 15 अगस्त तक अपने घर पर तिरंगा फहराकर ‘हर घर तिरंगा अभियान’ से जुड़कर इसे जन आंदोलन बनाने का आग्रह किया गया है। इस अभियान का उद्देश्य आमजन के दिलों में देशभक्ति की भावना को जागृत करने के साथ तिरंगे से जुड़ाव को गहरा करना है। इसके साथ ही राष्ट्र निर्माण के प्रति नागरिकों की प्रतिबद्धता के महत्व पर भी जोर देता है।
संयोजक जयनाथ कुशवाहा गुड्डन ने कहा कि आजादी का अमृत महोत्सव के तत्वावधान में लोगों को तिरंगा घर लाने और भारत की आजादी के 75वें वर्ष के उपलक्ष्य में इसे फहराने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए ‘हर घर तिरंगा’ अभियान आज से शुरू हो गया है। यह अभियान 15 अगस्त तक चलेगा।केंद्र सरकार ने भारत की आजादी की 75वीं वर्षगांठ मनाने के लिए लोगों से 13 से 15 अगस्त तक अपने घरों में तिरंगा फहराने या प्रदर्शित करने का आग्रह किया है।


अशोक पांडेय ने कहा कि
आजादी का अमृत महोत्सव, हर घर तिरंगा अभियान का उद्देश्य आमजन के दिलों में देशभक्ति की भावना को प्रेरित करता है।उन्होंने इस अवसर जन कल्याणकारी योजनाओं के बारे में जानकारी प्रदान की।
उक्त अवसर पर मण्डल अध्यक्ष कन्हैया लाल जायसवाल,त्रिपुणायक विश्वकर्मा,अभय तिवारी,बलबीर सिंह दादा,अजय दूबे वत्स,धनन्जय चतुर्वेदी,अनूप उपाध्याय,अवधेश मद्देशिया, दीपक श्रीवास्तव,अजय गौतम,रामनयन सिंह,उमाकांत मिश्र,अशोक तिवारी,अशोक सिंह,पुनीत पाठक,अनूप मिश्रा,पिंटू तिवारी,पंकज पासवान,राघवेंद्र पासवान,अशोक गुप्ता,राजेश जायसवाल,हितेन्द्र तिवारी,सुधीर गुप्ता आदि मौजूद रहे।

spot_img

Similar Articles

Advertismentspot_img

ताजा खबर