जनपद के प्रत्येक ब्लॉक में हो एफपीओ का गठन:डीएम


देवरिया टाइम्स।

जिलाधिकारी जितेंद्र प्रताप सिंह की अध्यक्षता में किसान उत्पादक संगठनों (एफपीओ) का गठन एवं प्रोत्साहन देने हेतु जनपद स्तरीय समीक्षा समिति की बैठक सोमवार की देर सायं कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित हुई। जिलाधिकारी ने जनपद के समस्त ब्लॉकों में एफपीओ का गठन करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि एफपीओ के माध्यम से कृषक हित का प्रभावी रूप से संवर्द्धन हो रहा है।

जिलाधिकारी ने बताया कि भारत सरकार के साथ-साथ प्रदेश सरकार द्वारा भी कृषक उत्पादक संगठन निर्माण के लिए नीति बनाई गई है और इस दिशा में जिले के हर ब्लाक में कृषक उत्पादक संगठन के गठन हेतु प्रयास किया जा रहा है। इन गठित कृषक उत्पादक संघो को भारत सरकार द्वारा परिचालन हेतु 3 वर्ष तक सहयोग भी प्रदान किया जाएगा।

इस योजना के अंतर्गत देवरिया में अब तक तीन एफपीओ का निर्माण गौरी बाजार, तरकुलवा और भलुअनी विकासखंड में किया जा चुका है। इस वर्ष पथरदेवा रामपुर कारखाना एवं सलेमपुर विकासखंड में नाबार्ड द्वारा और देसही विकासखंड में लघु कृषक व्यापार संघ द्वारा एफ़पीओ का निर्माण किया जाएगा। इन संगठनों के गठन से किसानों को अपनी फसल का उचित मूल्य एवं बिचौलिया से मुक्ति मिल सकेगी।

जिलाधिकारी ने कहा कि एफपीओ निर्माण से पूर्व नाबार्ड एवं लघु कृषक व्यापार संघ से एफपीओ गठन हेतु नामित गैर सरकारी संस्था का कार्यालय जिले में अवश्य खुल जाना चाहिए। उन्होंने जिले में कार्यरत 18 एफपीओ के बारे में विस्तार पूर्वक चर्चा की तथा पूर्वांचल पोल्ट्री उत्पादक कंपनी एवं महालक्ष्मी उत्पादक कंपनी के निवेशकों से एफपीओ की कार्यप्रणाली के संबंध में जानकारी प्राप्त की।

नाबार्ड के डीडीएम संचित सिंह ने बताया कि एफपीओ के गठन हेतु जनपद में विस्तृत कार्य योजना तैयार कर ली गई है। शीघ्र ही जनपद के समस्त ब्लॉकों में एफपीओ का गठन किया जाएगा।
बैठक में मुख्य विकास अधिकारी रवींद्र कुमार, अपर जिलाधिकारी (प्रशासन) कुँवर पंकज, उपनिदेशक कृषि विकेश कुमार, जिला कृषि अधिकारी मोहम्मद मुजम्मिल, मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी पीएन सिंह, एलडीएम अरुणेश कुमार सहित विभिन्न अधिकारी एवं एफपीओ के प्रतिनिधि गण उपस्थित थे।

spot_img

Similar Articles

Advertismentspot_img

ताजा खबर