सभी विश्वविद्यालयों को निर्देश -छात्रों की डिग्रियां उनके घर तक भेजें

विज्ञापन
savitri
Caption Two
3 / 3
maneesh

राज्यपाल आनंदी बेन पटेलउत्तर प्रदेश की राज्यपाल और कुलाधिपति आनंदीबेन पटेल ने विश्वविद्यालयों से कहा है कि छात्रों की उपाधियां उनके घरों तक पहुंचाएं। छात्र दीक्षांत समारोह में उपस्थित रहें, यह जरूरी नही है। उन्होंने कहा कि पिछले तीन साल की उपाधियां छात्रों को उनके पते पर पोस्ट की जाए। डिग्रियां भेजने के बाद इस बारे में राजभवन को सूचित किया जाय। राज्यपाल ने मंगलवार को संपूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय और महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ के दीक्षांत समारोह में बताया कि यह निर्देश सभी विश्वविद्यालयों को जारी कर दिया है।उन्होंने कहा कि उन्हें मालूम है कि विश्वविद्यालयों में दस-दस साल से उपाधियां पड़ी हैं। ऐसे में विश्वविद्यालयों को जिम्मेदारी है कि वह छात्रों तक उपाधियां पहुंचाएं। राज्यपाल ने बताया कि उन्होंने 31 विश्वविद्यालयों से सूचना मांगी थी। जिसमें यह बताया गया कि चार लाख डिग्रियां विश्वविद्यालयों में पड़ी हैं।उन्हें यह बताया गया कि छात्र डिग्रियां ले ही नहीं गए। उन्हें जरूरत नहीं पड़ी और अंकपत्र से काम चल गया। इसके बावजूद विश्वविद्यालयों से कहा गया पिछले तीन साल के छात्रों को खोज-खोज कर उनके पते पर डिग्रियां भेज दी जाए। हो सकता है दस साल पहले के छात्रों के पते बदल गए होंगे। इसलिए तीन साल का लक्ष्य दिया गया है।

विज्ञापन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here