प्रधानमंत्री मोदी के देश के नाम संबोधन में कहीं ये बड़ी बातें, प्‍वाइंट्स में समझें पूरा संबोधन

विज्ञापन

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने मंगलवार रात आठ बजे देश को संबोधित किया। पीएम मोदी का कोरोना वायरस के भारत में दस्तक देने के बाद उन्‍होने ये देश के नाम छठा संदेश दिया। पीएम मोदी ने कहा कि पूरी दुनिया इस वक्त कोरोना वायरस (कोविड-19) महामारी से जूझ रही है। इसके मामलों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। भारत में भी कोरोना वायरस का प्रकोप बढ़ता ही जा रहा है। उन्‍होंने कहा कि दुनिया को इस कोरोना से मुकाबला करते हुए चार माह बीत चुके हैं, भारत के कई परिवारों ने अपने स्‍वजनों को खोया हैं मैं उनके प्रति अपनी संवेदना व्‍यक्त करता हूं। पीएम ने कहा कि एक वायरस ने पूरी दुनिया को संकट में डाल दिया हैं हमनें न कभी ऐसा संकट देखा न सुना न कभी इसके बारे में कल्‍पना की थी।
पीएम मोदी ने इस अवसर पर कई बड़ी बातें कहीं। प्‍वाइंट्स में जानिए वो बातें

1 -पीएम का संबोधन में कहा कि सतर्क रहते हुए भी हमें बचना भी है और आगे बढ़ना भी है।

2- 11वीं सदी भारत की हो, ये हमारा सपना ही नहीं हम सब की जिम्मेदारी भी हैं।

3- इस जंग को जीतने के लिए इसका एक ही मार्ग हैं आत्‍मनिर्भर भारत। भारत जब आत्मनिर्भरता की बात करता है, तो आत्मकेंद्रित व्यवस्था की वकालत नहीं करता हैं। भारत की आत्मनिर्भरता में संसार के सुख, सहयोग और शांति की चिंता होती है।

4- इतनी बड़ी आपदा भारत के लिए एक अवसर लेकर आई है। विश्व की आज की स्थिति हमें सिखाती है कि इसका मार्ग एक ही है आत्‍मनिर्भरता

5- भारत में दो लाख रोज पीपीई और N-95 मास्क बनाए जा रहे हैं, पहले इसका नाममात्र उत्पादन था।

6- भारत ने आपदा को अवसर में बदला हैं।

7- भारत की संस्कृति उस आत्मनिर्भरता की बात करती है जो वसुधैव कुटुंबकम की बात करती है।

8- 21वीं सदी भारत की हो, ये हमारा सपना ही नहीं हम सब की जिम्मेदारी भी हो

9-थकना, हारना भारतीय मानव को मंजूर नहीं हैं हमें इन सबसे लड़कर आगे बढ़ना होगा।

10-हमारा संकल्‍प इसे आत्मनिर्भर भारत बनना होगा

11- प्रधानमंत्री ने इस अवसर पर आत्मनिर्भर भारत अभियान का ऐलान किया

12-इस अभियान में पीएम मोदी ने किया 20 लाख करोड़ के पैकेज का ऐलान किया

13–भारत की जीडीपी का 10 फीसदी

14- इससे विभिन्न वर्गों को 20 लाख करोड़ का संबल मिलेगा

15 -यह अभियान 2020 में देश की विकास यात्रा नई गति देगा

16-लैंड, लेबर, लिक्विडिटी और लॉ सभी पर बल दिया गया है

17-सभी प्रकार लघु और उद्योगों के लिए ये पैकेज लाभ देगा

18-ये पैकेज, उस श्रमिक और किसान के लिए है जो हर स्थिति और मौसम में देशवासियों के लिए श्रम करता है

19-मध्यम वर्ग के लिए भी ये पैकेज राहत देगा जो देश के लिए टैक्स देता है। प्रधानमंत्री ने क्यों कहा हमें “लोकल” ने ही इस संकट से बचाया है।

20-इस संकट ने हमें बताया कि लोकल प्रोडक्ट और लोकल सप्लाई चेन कितनी जरूरी है।

21-हमें लोकल प्रोडक्ट को बढ़ावा देना है, लोकल अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देना है।

22-हम भारतवासियों को लोकल से ग्लोबल बनना है।

23-आज से हर भारतवासी को लोकल के लिए वोकल बनना है।

24-ना केवल लोकल प्रोडक्ट खरीदना है बल्कि उनका प्रचार करना है।

25-लॉकडाउन का चौथा चरण पूरी तरह से नए रंगरूप, नियम वाला होगा।

26- पीएम मोदी ने कहा कि लॉकडाउ के चौथे चरण के बारे में 18 मई से पहले दी जाएगी जानकारी।

विज्ञापन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here