मुंबई से इलाज करा वापस आये व्यक्ति की क्वारंटिन सेंटर में मौत

विज्ञापन

देवरिया टाइम्स

देवरिया के रामपुर कारखाना थाना क्षेत्र के एक प्राथमिक विद्यालय में क्‍वांरटीन किए गए राइस मिलर विश्राम सिंह (उम्र 60 वर्ष) की रविवार को मौत हो गई। वह चार दिन पहले मुंबई से कैंसर का इलाज करा कर गांव लौटे थे। परिवार के अन्‍य सदस्‍यों के साथ उन्‍हें विद्यालय में क्वारंटीन किया गया था। मौत की जानकारी मिलते ही स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया।

देसही देवरिया विकासखंड के हरैया बसंतपुर  निवासी राइस मिलर विश्राम सिंह कैंसर से पीड़ित थे। उनका इलाज टाटा मेमोरियल कैंसर अस्पताल मुम्बई में चल रहा था। उनकी पित्‍त की थैली में कैंसर की शिकायत थी। उनके बड़े बेटे रविंद्र सिंह मुंबई में नौकरी करते हैं। करीब दो महीने पहले विश्राम सिंह परिवारीजनों के साथ इलाज कराने बड़े बेटे के पास मुंबई गए। लेकिन कैंसर के अंतिम स्टेज में होने के चलते चिकित्सकों ने घर ले जाने की सलाह दी। इसके बाद परिवारीजन एंबुलेंस बुक कराकर घर के लिए चल दिए। 
सात मई को सब गांव पहुंचे।

ग्राम प्रधान वेद व्यास सिंह सबको देवरिया जिला चिकित्सालय ले गए। वहां पर थर्मल स्क्रीनिंग करने के बाद चिकित्सकों ने विश्राम सिंह समेत आधा दर्जन परिजनों को क्वारंटीन सेंटर में रहने की सलाह दी। रविवार की तड़के विश्राम सिंह की मौत हो गई। सूचना पर देसही प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र प्रभारी डॉ.ओपी सिंह आधा दर्जन चिकित्साकर्मियों के साथ सेंटर पर पहुंचे। चिकित्सा प्रभारी डॉ.ओम प्रकाश सिंह ने बताया कि दाह संस्कार से पहले कोरोना टेस्‍ट के लिए नमूना लिया जा रहा है।

विज्ञापन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here