सलेमपुर के सांसद सोहगरा धाम को रामायण सर्किट से जोड़ने की मांग की



देवरिया टाइम्स।सलेमपुर सांसद रविन्द्र कुशवाहा ने सोमवार को लोकसभा में कहा कि मेरा संसदीय निर्वाचन क्षेत्र सलेमपुर पर्यटन की दृष्टि से काफी पिछड़ा हुआ है।
जबकि यहाँ पर्यटन की अपार संभावनाएं है। मेरे संसदीय निर्वाचन क्षेत्र से होकर राम जानकी पथ गुजरता है जो रामायण सर्किट का हिस्सा है।राम जानकी पथ से केवल छह किलोमीटर की दूरी पर स्थित सोहगरा धाम में एक पौराणिक शिव मंदिर है,जहां पर जनकपुर से अयोध्या जाते समय माता सीता ने महादेव शिव की पूजा अर्चना की थी,लेकिन इस पौराणिक मंदिर को रामायण सर्किट से नही जोड़ा गया है जिसके बिना रामायण सर्किट अधूरा है।

इसके अलावा सोहगरा धाम से सटे हुए दीर्घेश्वरनाथ धाम,सोहनाग धाम एवम मईल चौराहा पर विश्व प्रसिद्ध सन्त देवराहा बाबा का आश्रम है।मेरे संसदीय निर्वाचन क्षेत्र के बलिया में महान ऋषि और भृगु संहिता के रचयिता भृगु ऋषि का आश्रम है और बिहार की सीमा से लगे सोहनपुर में श्री राम जानकी मंदिर और एक विशाल तालाब है जिसे पर्यटन की दृष्टि से विकसित करने की आवश्यकता है। इन स्थानों को विकसित करने के लिए उत्तर प्रदेश की सरकार ने हर सम्भव प्रयास किया है लेकिन अभी कुछ करने की जरूरत है।उन्होंने मान्य सदन के माध्यम से माननीय मंत्री जी से मांग करता हूं कि सोहगरा धाम को रामायण सर्किट से जोड़ने और सोहनाग धाम ,दीर्घेश्वरनाथ धाम,देवराहा बाबा आश्रम मईल ,श्री रामजानकी मंदिर सोहनपुर और भृगु ऋषि आश्रम बलिया को विकसित करने की मांग की।


सांसद सलेमपुर द्वारा नियम 377 के अधीन लोकसभा में सलेमपुर में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए अपनी बात रखने पर सलेमपुर के भाजपा नेता अशोक पांडेय,कन्हैया लाल जायसवाल,मीडिया प्रभारी अजय दूबे वत्स,अभय तिवारी,अशोक कुशवाहा, सत्यप्रकाश सिंह,सुनील यादव स्नेही,राजेश शाह आदि ने प्रसन्नता व्यक्त की।

spot_img

Similar Articles

Advertismentspot_img

ताजा खबर