युवाओं के प्रेरणास्त्रोत स्वामी विवेकानंद की मनाई गई जयंती

विज्ञापन

देवरिया टाइम्स

सलेमपुर तहसील के जी.एम.एकेडमी सीनियर सेकेंडरी स्कूल (10+2) में विलक्षण प्रतिभा के धनी स्वामी विवेकानंद जी की जयंती को बड़े उत्साह से रूप में मनाया गया।


कार्यक्रम की शुरुआत स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा पर विद्यालय के प्रबंधक श्री प्रकाश मिश्र, प्रधानाचार्या डॉ संभावना मिश्रा एवं उपप्रधानाचार्य मोहन द्विवेदी के द्वारा माल्यार्पण, पुष्प अर्पण, एवं दीप प्रज्वलित कर किया गया। उसके बाद विद्यालय के उपप्रधानाचार्य मोहन द्विवेदी द्वारा स्वामी विवेकानंद जी की जीवनी पर विधिवत प्रकाश डालते हुए उनके आदर्शों पर चलने की बात कही गई। उन्होंने कहा कि स्वामी विवेकानंद विलक्षण प्रतिभा के धनी व्यक्ति थे, जो युवाओं के लिए सदैव प्रेरणा स्रोत हैं। अंग्रेजी प्रवक्ता सुकेश कुमार मिश्र ने कहा कि विवेकानंद जी युग पुरुष थे, जिनके जीवन का हर कार्य क्षण हम सभी के लिए प्रेरणादायक है। विद्यालय की प्रधानाचार्या डाॅ. संभावना मिश्रा ने कहा कि स्वामी विवेकानंद जी का मानना था कि जो भी करो पूरी शिद्दत से करो नहीं तो नहीं करो । वे खुद भी जो भी काम करते थे पूरी कर्तव्यनिष्ठा से करते थे और अपना पूरा ध्यान उसी काम में लगाते थे शायद इसी गुण ने उन्हें महान बनाया।


विद्यालय के प्रबंधक श्री प्रकाश मिश्र ने स्वामी विवेकानंद के विचारों का बड़े ही मार्मिक ढंग से चित्रण करते हुए कहा कि स्वामी विवेकानंद जी मानते थे कि सफलता पाने के लिए लक्ष्य का होना आवश्यक है, क्योंकि एक निश्चित लक्ष्य के निर्धारण से ही आप अपनी मंजिल तक पहुंच सकते हैं।


यदि आज की युवा पीढ़ी उनके मार्ग पर चले तो वह युवा निश्चित ही युगपुरुष बन जाएगा। यहां तक कि उसमें ईश्वरीय शक्ति सा अहसास होने लग जाएगा। आगे उन्होंने बोर्ड परीक्षा देने वाले सभी बच्चों को अनेकों उदाहरणों के माध्यम से ऊर्जा संचार करने का कार्य किया। कक्षा दसवीं एवं बारहवीं के सभी उपस्थित बच्चे इस प्रकार के उत्साह वर्द्धक बात सुनकर बड़े प्रसन्न एवं ऊर्जावान नजर आए।इस अवसर पर सभी रामकेश, पंकज मिश्रा, परमहंस मिश्रा, पुरंजय कुशवाहा, विकास विश्वकर्मा,सर्वेश द्विवेदी आदि अध्यापक एवं दसवीं तथा बारहवीं के बच्चे उपस्थित थे।

विज्ञापन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here