शटडाउन में शुरू कर दी सप्लाई, प्राइवेट लाइनमैन की मौत

विज्ञापन

देवरिया टाइम्स

शटडाउन के बावजूद सप्लाई शुरू कर देने से एक लाइनमैन की मौत हो गई।आक्रोशित कस्बा वासियों ने शव को सड़क पर रखकर देवरिया कसया मार्ग जाम कर दिया। मृतक के परिजनों को मुआवजा और विद्युत कर्मचारियों पर मुकदमा दर्ज करने को लेकर कस्बा वासी आक्रोशित थे। एसडीएम और सीओ सदर ने ज्ञापन लेकर जाम खत्म कराया। इसके बाद पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

नगर पंचायत रामपुर कारखाना के ठाकुर रामेश्वर वार्ड स्थित 400 केवीए का विद्युत ट्रांसफार्मर 2 दिन पहले जल गया था विभाग ने नगर पंचायत का मोबाइल ट्रांसफार्मर लगाकर आपूर्ति बहाल कराई लेकिन यह भी रविवार को धू-धू कर जल गया रविवार को ही विभाग ने नया ट्रांसफार्मर लगवाया जिसे रमा किया जा रहा था सोमवार को लाइनमैन विनोद कुमार दो अन्य कर्मचारियों के साथ रामपुर कारखाना पहुंचा उसने कस्बे के सोनार टोली वार्ड निवासी उमेश विश्वकर्मा 25 वर्ष पुत्र सुदामा विश्वकर्मा को अपने साथ ले लिया उमेश भी बिजली के खंभे पर चना और प्राइवेट लाइनमैन का काम जानता था। आरोप है कि लाइनमैन शटडाउन लेकर खुद नीचे रहा और उमेश को खंभे पर चढ़ा दिया।

वह ट्रांसफार्मर से 11000 बोर्ड के तार को जोड़ रहा था कि शटडाउन के बावजूद सप्लाई चालू कर दी गई। इससे वह करंट की चपेट में आने से झुलस कर खंभे से नीचे गिर पड़ा। उसके नीचे गिरते ही तीनों लाइनमैन घटनास्थल से भाग निकले। कस्बा वासी प्राइवेट लाइनमैन उमेश को लेकर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचे। जहां हालत गंभीर देख चिकित्सकों ने सदर अस्पताल रेफर कर दिया। परिजन उसे लेकर सदर अस्पताल पहुंचे। जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। कस्बा वासी मृतक के परिजनों को मुआवजा और विद्युत कर्मचारियों को निलंबित कर मुकदमा दर्ज करने की मांग को लेकर आक्रोशित हो गए। वापस लौटे कस्बा वासियों ने देवरिया कसया मार्ग स्थित रामपुर कारखाना मुख्य चौराहे पर शव को सड़क पर रखकर जाम कर दिया।

इससे दोनों तरफ वाहनों की कतार लग गई। मौके पर पहुंचे नायब तहसीलदार व थानाध्यक्ष मनोज कुमार ने समझा-बुझाकर रास्ता खुलवाया। लेकिन सक्षम अधिकारी के नहीं पहुंचने पर घंटे भर बाद कस्बा वासी आक्रोशित हो गए और दोबारा सड़क जाम कर दिया। इसके बाद एसडीएम सदर सौरभ सिंह और क्षेत्राधिकारी सदर श्रेयश त्रिपाठी रामपुर कारखाना चौराहे पर पहुंचे। उन्होंने परिजनों और कस्बा वासियों को समझाकर शांत कराया और ज्ञापन लेकर जाम खत्म कराया।

विज्ञापन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here