अपने पिता के दाह संस्कार में आए बेटे की गंडक नदी में डूबने से मौत

विज्ञापन

देवरिया टाइम्स

जिले में गुरुवार को एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई। अपने पिता के शव के दाह संस्कार करने गए पुत्र की छोटी गंडक नदी में डूबने से मौत हो गई। करीब एक घंटे बाद नदी से परिजनों ने उसे बाहर निकालकर जिला अस्पताल पहुँचाया। जहा चिकित्सकों नर उसे भी मृत घोषित कर दिया। पिता – पुत्र की मौत से गांव में कोहराम मच गया।


जिले के महुआडीह थाना क्षेत्र के सवरेजी मनी गांव निवासी अमेरिका कन्नौजिया 65 वर्ष की तबियत कुछ दिनों से खराब चल रही थी।
गुरुवार की सुबह उनकी मौत हो गयी । परिजन उन्हें देवरिया-कसया मार्ग पर स्थित पटनवा पुल पर गंडक नदी के किनारे दाह संस्कार के लिए पहुचे थे। चिता को मृतक ज बड़े बेटे दिनेश ने मुखाग्नि दी। इसी दौरान दूसरे नंबर का लड़का राममूरत उम्र 35 वर्ष स्नान के लिए गंडक नदी में उतरा। पैर फिसलने से वह गहरे पानी मे गिर कर डूब गया। किनारे स्नान करने के चलते किसी ने उसे नही देखा। कुछ देर बाद घाट पर उसे न पाकर परिजनों ने उसकी तलाश शुरू की। एक घंटे बाद उसका शव नदी में उतराता दिखा। परिजनों ने ग्रामीणों की मदद से उसे नदी से बाहर निकाला और उसे लेकर जिला अस्पताल पहुंचे, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

परिजन उसे लेकर वापस घर चले आए। बिना पोस्टमार्टम कराए दोपहर में बेटे का भी पटनवापुल स्थित छोटी गंडक नदी किनारे दाह संस्कार कर दिया।मृतक के बड़े भाई दिनेश, छोटे पिंटू, माता फुलछड़ी देवी, लड़का शिवम कुमार 15, लड़की अंजली कन्नौजिया, पत्नी विमला देवी को रोना देखकर सांत्वना दे रहे रिश्तेदारों और ग्रामीणों की आंखें भी नम हो गईं। थानाध्यक्ष महुआडीह राम मोहन सिंह ने बताया कि एक व्यक्ति सदर अस्पताल में मौत की सूचना मिली है। लेकिन परिजन बिना पोस्टमार्टम कराए ही दाह संस्कार कर दिए हैं।

विज्ञापन

Multiple Slideshows

विज्ञापन:

विज्ञापन:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here