किसानों के लिए काम कर रही राज्य सरकार:सूर्य प्रताप शाही

विज्ञापन
savitri
Caption Two
3 / 3
maneesh

देवरिया टाइम्स

आचार्य नरेन्द्र देव इंटर कालेज पथरदेवा में आज से आयोजित तीन दिवसीय एग्रो क्लाइमेटिक जोन स्तरीय विराट किसान मेला एवं प्रदर्शनी का शुभारंभ कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने फीता काटने के साथ किया। इस अवसर पर लगाए गए विकास एवं कृषि विभाग से जुड़े विभिन्न स्टालों का निरीक्षण किया। साथ ही आयोजित खेलकूद प्रतियोगिता का भी शुभारंभ कृषि मंत्री ने खिलाड़ियों से परिचय प्राप्त कर किया।कृषि विभाग के लाभार्थियों एवं उत्कृष्ट कार्य करने वाले कृषकों को कृषि यंत्र यथा ट्रैक्टर,सीडड्रिल आदि की चाबी एवं प्रशस्ति पत्र प्रदान किया।इस अवसर पर आयोजित वृहद किसान गोष्ठी का भी शुभारंभ उन्होंने दीप प्रज्वलन के साथ किया।


कृषि मंत्री श्री शाही ने कहा कि पिछले 3 वर्षो से इसी स्थान पर यह मेला आयोजित हो रहा है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री सम्मान निधि के अंतर्गत प्रदेश में किसानों को लाभ मिला तथा देश में इस योजना में उत्तर प्रदेश को बेहतरीन कार्य करने के लिए पुरस्कृत किया गया। यह अवसर आप सभी के द्वारा ही मिला है, इसके लिए आप सभी को बधाई है।प्रधानमंत्री द्वारा किसानों के समृद्धि के लिए यह योजना संचालित की गई।पिछले 4 वर्ष के भीतर प्रदेश में अच्छा कार्य हुआ है। इसी का परिणाम है कि किसानों को इसका लाभ मिला है।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री द्वारा वर्ष 2019 में इस योजना को लांच किया गया। एक बटन क्लिक करने के माध्यम से किसानों के खाते में सीधे दो दो हजार की धनराशि भेजी गई। यह योजना दुनिया में पहली महत्वाकांक्षी योजना है, जो प्रधानमंत्री ने इस देश में लागू किया है।प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री से ही यह संभव हो पाया है, जिसका लाभ किसानों को पारदर्शी तरीके से उनको मिला है।उन्होंने कहा कि किसानों को कृषि कल्याण केंद्र के माध्यम से एक ही छत के नीचे सभी कृषि निवेशो को उपलब्ध कराए जाने का कार्य किया गया है। कृषि विश्वविद्यालयों को टिशू कल्चर पर कार्य करने के लिए कहा गया है। 3 वर्षों में खाद्यान्न उत्पादन में यह प्रदेश नंबर वन की स्थिति में है। नियोजित तरीके से कृषि का विकास कैसे करें,यह कार्य करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि देवरिया के किसानों को जागरूक एवन योजनाओं का लाभ उठाने की जरूरत है।उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना से वंचित किसानों की कठिनाइयों को दूर कराने का कार्य किया जाएगा और उन्हें भी इस योजना का लाभ दिया जाएगा। वरासत अभियान के तहत सभी अवशेष वरासतों को कराए जाने के लिए जिलाधिकारी से उन्होंने कहा। उन्होंने विभिन्न क्षेत्रों में उसकी उत्कृष्ट कार्य करने वालों की चर्चा करते हुए कहा कि बेहतर कार्य करने वालों को उजागर करने से दूसरों को प्रेरणा मिलती है। उन्होंने नारी शक्ति मिशन से लेकर कृषि विभाग आदि क्षेत्रों में किए गए कार्यों एवं उपलब्धियों को रखा।उन्होंने कहा कि पथरदेवा विधानसभा के 18 सड़कों के निर्माण कार्य की परियोजना 33 करोड़ 87 लाख की स्वीकृत हुई है, जिस पर कार्य शुरू होंगे।तेजी से विकास के कार्य आगे बढ़ रहे हैं योजनाओं से अपने आप को जोड़ें, इसकी जानकारी रखें और लाभ उठाएं।


जिलाधिकारी अमित किशोर ने कहा कि प्रधानमंत्री सम्मान योजना में उत्तर प्रदेश को प्रथम स्थान मिला है।मंत्री जी द्वारा निरंतर इसकी समीक्षा कर कृषकों को इस योजना का लाभ मिले इसके लिए कार्य किया गया है। उन्होंने कहा कि विभिन्न योजनाओं और विभाग के तीन दिवसीय प्रदर्शनी, स्वास्थ्य कैंप, दिव्यागों के लिए परीक्षण /प्रमाण पत्र दिए जाने के लिए शिविर लगाए गए हैं, जिसकी जानकारी व लाभ स्वयं उठाये और अपने आसपास के लोगों को भी दें।
पुलिस अधीक्षक डा श्रीपति मिश्र ने कहा कि एक साथ बहुत सारी चीज है एक ही स्थान पर उपलब्ध है। यह मेला हर साल यहां लगाई जाती हैं जिससे किसान लाभान्वित होते हैं। इस अवसर का लाभ सबको उठाना चाहिए।
अपर निदेशक कृषि प्रसार आरबी सिंह ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार किसानों की आमदनी दोगुना करने के लिए विभिन्न योजनाएं संचालित की है। किसानों के घर घर तक पहुंचने का प्रयास है, जिससे कि कृषक योजनाओं को जाने और उसका लाभ उठा सकें। उन्होंने कृषकों से अपेक्षा करते हुए कहा कि वे योजनाओं की जानकारी रखें और पंजीयन का लाभ उठाएं।
कुमारगंज कृषि विश्वविद्यालय अयोध्या के वाइस चांसलर बृजेंद्र सिंह ने कहा कि कृषकों को नई तकनीकी, उन्नतशील बीज उपलब्ध कराए जाने के लिए कृषि विश्वविद्यालय प्रयत्नशील है,इसके लिए कार्य कर रही है। आवश्यकता है कि कृषि तकनीकों को अपनाएं अधिक उत्पादन प्राप्त कर अपनी आय को बढ़ाएं।
भाजपा जिला अध्यक्ष अंतर्यामी सिंह ने भी अपने विचारों को रखा। मुख्य अतिथि कृषि मंत्री श्री शाही को बुके प्रदान कर जिलाधिकारी अमित किशोर, पुलिस अधीक्षक डा श्रीपति मिश्र, मुख्य विकास अधिकारी शिव शरणप्पा जीएन, अपर कृषि निदेशक, उप कृषि निदेशक डा एके मिश्र आदि ने स्वागत किया। कार्यक्रम का संचालन अवधेश सिंह एवं कृषि विज्ञान केंद्र के कृषि वैज्ञानिक संतोष चतुर्वेदी द्वारा किया गया।


इस अवसर पर जुड़े अन्य विभागों के अधिकारी, कर्मचारी गण सहित कृषक गण, प्रबुद्ध जन आदि उपस्थित रहे।
जिन्हें कृषि यंत्र की चाबी प्रदान किए गए उनमें राम दुलारे चौरसिया एवं इमरती देवी को ट्रैक्टर की चाबी, महेंद्र सिंह को सीड ड्रिल की चाबी, राम नरेश मिश्र एवं रामनिवास प्रसाद को सोलर पंप के स्वीकृति पत्र तथा कृष्ण मोहन पाठक को मैकेनाइज खेती एवं धनंजय सिंह बीज उत्पादन में उत्कृष्ट कार्य करने के लिए प्रशस्ति पत्र प्राप्त करने में शामिल है। यह प्रदर्शनी 28 फरवरी तक आयोजित रहेगी।

विज्ञापन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here