गोरखपुर-बनारस इंटरसिटी सहित NER की छह ट्रेनों को रेलवे बोर्ड की हरी झंडी


देवरिया टाइम्स

आखिरकार, पूर्वांचल के स्थानीय यात्रियों का इंतजार खत्म हुआ। पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन की पहल पर रेलवे बोर्ड ने गोरखपुर से लखनऊ, वाराणसी और छपरा तक की यात्रा करने वाले लाखों लोगों को राहत दी है। फिलहाल, बोर्ड ने गुरुवार को पूर्वोत्तर रेलवे रूट पर चलने वाली गोरखपुर-लखनऊ और गोरखपुर- वाराणसी सहित चार इंटरसिटी और दो एक्सप्रेस ट्रेन को नंबर बदलकर स्पेशल के रूप में चलाने की अनुमति प्रदान कर दी।

गोरखपुर-आनंदविहार भी चलेगी, जल्द घोषित होगी ट्रेनों की संचालन तिथि

रेलवे बोर्ड की संस्तुति मिलते ही पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन ने ट्रेनों को चलाने की तैयारी जोरशोर से शुरू कर दी है। ट्रेनों की रेक में लगने वाले कोचों की तैयारी शुरू हो गई है। परिचालन विभाग ने ट्रेनों के संचालन की तिथि को लेकर मंथर शुरू कर दिया है। जानकारों के अनुसार जल्द ही ट्रेनों के संचालन की तिथि घोषित कर दी जाएगी। वैसे रेलवे प्रशासन का प्रयास है कि एक जनवरी से पहले इन ट्रेनों को चला दिया जाए। वैसे नए साल के प्रथम सप्ताह में ट्रेनों का संचालन शुरू हो जाएगा। दरअसल, कोरोना काल में लंबी दूरी की ट्रेनें तो चल रही थीं लेकिन लोकल रूटों पर चलने वाली इंटरसिटी के नहीं चलने से पूर्वांचल के लोगों की परेशानी बढ़ गई थी। गोरखपुर से लखनऊ, छपरा, वाराणसी और नौतनवा की यात्रा पहाड़ चढऩे जैसी हो गई थी। लोग मजबूरी में रोडवेज की बसों से यात्रा कर रहे थे। इन ट्रेनों के संचालन से आम लोगों की राह आसान हो जाएगी। हालांकि, इन ट्रेनों में भी सिर्फ आरक्षित कोच ही लगाए जाएंगे। कंफर्म टिकटों पर ही यात्रा की अनुमति होगी। कोविड-19 प्रोटोकाल का पालन अनिवार्य होगा।

इन ट्रेनों को मिली चलाने की अनुमति

15103- 15104 गोरखपुर-बनारस-गोरखपुर इंटरसिटी।

15105- 15106 छपरा- नौतनवां- छपरा इंटरसिटी।

15111- 15112 छपरा- वाराणसी- छपरा इंटरसिटी।

12531- 12532 गोरखपुर-लखनऊ-गोरखपुर इंटरसिटी।

15057- 15058 गोरखपुर-आनंदविहार-गोरखपुर एक्सप्रेस।

15025- 15026 मऊ- आनंदविहार- मऊ एक्सप्रेस।

spot_img

Similar Articles

Advertismentspot_img

ताजा खबर