रोजा रखते हुए अपना फर्ज निभा रहे डॉ जफ़र अनीश

विज्ञापन

संतोष विश्ववकर्मा


देवरिया का नाम ऐसे ही देव भूमि नही कहा जाता । देव के रूप में इस कोरोना महामारी से जूझ रहे देवरिया को उबारने का काम हमारे वारियर्स के रूप में डॉक्टर कर रहे है । आपको बताते चले कि प्रतिदिन लगभग 400 से 500 मरीज जिला अस्पताल में आते है उनके डिटेल रिकॉर्ड में रख कर उनका थर्मल चेकअप के साथ उनका जाँच करने काम होता है।

देवरिया जिलाअस्पताल में लगातार अपने फर्ज को निभाते है, कोरोना योद्धा के रूप में डॉक्टर जफ़र, रवि कुमार , वीरेंद्र कुमार , घनश्याम कुमार ये हमारे देवरिया के वो योद्धा है जो सुबह से शाम तक लगातार अपने डियूटी पर तैनात है और एक एक मरीज के जाँच के साथ डेटा भी रखने का काम कर रहे है ।

आपको बताते चले कोरोना जैसी महामारी में इनका योगदान प्रथम स्थान पर है इनका हौसले इनका जज्बा हर रोज उन मरीजो की आँखे देख कर छल्ली हो जा रहा, और भूख प्यास गायब सा ,सिर्फ अपने काम को लगातार करते जा रहे है

आज लॉक डाउन का चौथा चरण शुरू हो गया पर ये आज भी अपने उसी जोस जज़्बा जुनून के साथ सेवा दे रहे हैं,

हमारे देवरिया जिले को ऐसे योद्धा की जरूरत है जो अपने कर्म के साथ समाज मे हर सम्भव सेवा के लिए तत्पर है।

विज्ञापन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here