जिलाधिकारी ने की कर-करेत्तर व वसूली कार्य की समीक्षा

विज्ञापन

देवरिया टाइम्स

जिलाधिकारी अमित किशोर ने सभी तहसीलदारों को आगाह करते हुए कहा है कि वे जाति, निवास आय प्रमाण पत्रों को लम्बित न रखें, अन्यथा इसे गंभीरता से लिया जायेगा और उनके खिलाफ कार्यवाही के साथ साथ संबंधित लिपिक के विरुद्व निलम्बन की कार्यवाही की जायेगी। उन्होने कर-करेत्तर, भू-राजस्व, विविध देयो की वसूली तथा राजस्व कार्यो के सभी लक्ष्यो की पूर्ति प्रत्येक दशा में शत प्रतिशत सुनिश्चित किया जाने का निर्देश भी दिया, साथ ही इसमें किसी भी प्रकार की शिथिलता के लिये सचेत भी किया। जिलाधिकारी श्री किशोर विकास भवन के गांधी सभागार में उपरोक्त कार्यो की माह अगस्त की प्रगति समीक्षा कर रहे थे। उन्होने कोटे की रिक्त दुकानो का आवंटन प्राथमिकता के साथ किये जाने को कहा। उन्होने आर0सी0 व विविध देयो का त्वरित निस्तारिण किये जाने के निर्देश के साथ कहा कि संबंधित विभाग आर0सी0 जारी करने की सूची उपलब्ध कराये तथा उसका मिलान भी अवश्य कराये।

उन्होने राजस्व कार्यो के तहत राजस्व वादो, विभागीय कार्यवाहियांे एवं शिकायती प्रकरणो आई0जी0आर0एस आदि का त्वरित समाधान किये जाने का निर्देश दिया। इस दौरान उन्होने चिकित्सा, वन विभाग, विधुत, परिवहन, पशुपालन, आबकारी आदि विभागो की वसूली कार्यो की गहनता से अनुश्रवण किया तथा संबंधित अधिकारियों को और सुधार लाये जाने का निर्देश दिया। साथ ही उन्होने प्रवर्तन कार्यो को भी प्रभावी तरीके से किये जाने को कहा। जिलाधिकारी ने शहरी क्षेत्र में वसूली कार्य के लिये उप जिलाधिकारयिों को निर्देश दिया कि वे नगरपालिका के कर निर्धारण अधिकारी से अमीनो का समन्वय स्थापित करा कर वसूली कार्य को शीघ्रता से पूरा करायें। उन्होने पुराने राजस्व वादो को प्राथमिकता के साथ निस्पादित कराये जाने का भी निर्देश दिया। बैठक में अपर जिलाधिकारी प्रशासन राकेश कुमार पटेल, सी0आर0ओ0 अमृत लाल बिन्द, एस0डी0एम0 सदर सौरभ सिंह, सलेमपुर ओम प्रकाश, बरहज सुनील कुमार सिंह, रुद्रपुर संजीव कुमार उपाध्याय, संजीव यादव सहित तहसीलदार गण व अन्य संबंधित अधिकारी आदि उपस्थित रहे।

विज्ञापन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here