मृदा जीवांश कार्बन बढ़ाने लिए गाँवों में वर्मी कम्पोस्ट यूनिट की, की जायेगी स्थापना


देवरिया टाइम्स। उप कृषि निदेशक डा आशुतोष मिश्र ने जनपद के समस्त कृषकों को अवगत कराया है कि राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के अन्तर्गत मृदा जीवांश कार्बन बढ़ाने लिए गाँवों में वर्मी कम्पोस्ट यूनिट की स्थापना की जायेगी। जनपद के सभी राजस्व गांवों को लाभ दिया जाना है, जो वर्मी कम्पोस्ट उत्पादन कर अन्य किसानों को भी इसके लिए प्रेरित करेंगे। इच्छुक किसान 15 दिन के अन्दर कृषि विभाग की वेबसाईट www.upagriculture.com पर पंजीकरण कर आनलाइन आवेदन कर सकते हैं।


पहले आओ पहले पाओ के आधार पर पंजीकृत कृषकों का चयन किया जायेगा। योजनान्तर्गत मृदा की उर्वरक शक्ति बढ़ाने व रासायनिक खादों के प्रयोग को कम करने के उद्देश्य से वर्मी कम्पोस्ट यूनिट स्थापना अनुमानित लागत मूल्य धनराशि रू० 8000.00 प्रति इकाई है। इसके निर्माण पर कृषकों को लागत मूल्य का 50 प्रतिशत धनराशि रू० 4000.00 का अनुदान आर० के०वी०वाई योजनान्तर्गत प्रदान किया जायेगा। 25 प्रतिशत राज्य सरकार द्वारा विशेष अनुदान धनराशि रू० 2000.00 प्रदान किया जायेगा। इस प्रकार कुल रू0 6000.00 अनुदान देय होगा।

25 प्रतिशत कृषक अंश रू0 2000.00 कृषक को देय होगा। योजनान्तर्गत इच्छुक कृषकों के पास कम से कम (01) एकड़ भूमि हो तथा वर्मी कम्पोस्ट शेड निर्माण करने में सक्षम हो। आबाद राजस्व ग्राम में जिस श्रेणी की प्रधान चयनित है, उसी जाति/श्रेणी के कृषकों का चयन किया जायेगा। महिलाओं हेतु आरक्षित ग्राम सभाओं में महिला कृषक का चयन किया जायेगा।

spot_img

Similar Articles

Advertismentspot_img

ताजा खबर