मुंडेरा बुजुर्ग गांव में पहुंच कर जिलाधिकारी ने अति कुपोषित बच्ची के माता पिता को दिया दुधारू गाय

विज्ञापन

देवरिया टाइम्स

माह सितंबर में संचालित राष्ट्रीय पोषण माह के अवसर पर जिलाधिकारी अमित किशोर ने मुंडेरा बुजुर्ग ग्राम में पहुंचकर कुपोषित बच्चे के माता-पिता को बच्चे का कुपोषण दूर करने के लिए दुधारू गाय प्रदान किया तथा कुपोषित बच्चों को पौष्टिक आहार की टोकरी भी दिया तथा गाय को गुण व चना भी खिलाया।
इस गांव के शेषनाथ, जिनकी 5 पुत्रियां है सबसे छोटी पुत्री भी अति कुपोषित है, जिसका चिन्हाकन किए जाने पश्चात जिलाधिकारी ने उस परिवार के कुपोषण को दूर कराने के लिए उसके घर पहुंच कर काउंसलिंग भी की तथा जहां गाय व पौष्टिक आहार दिया, वही उनके बच्चों एवं वंशानुगत पाए गए बीमारी की केस स्टडी किए जाने के लिए बाल रोग विशेषज्ञ डॉक्टर आर0के0 श्रीवास्तव को यहां बुलाकर ब्लड सैंपलिंग कराए जाने का निर्देश उन्होंने जिला कार्यक्रम अधिकारी कृष्ण कांत राय को दिया।
जिलाधिकारी ने कहा कि माह सितंबर में राष्ट्रीय पोषण माह संचालित है। गत दिवस मा0 मुख्यमंत्री जी की आयोजित वीडियो कांफ्रेंसिंग में यह निर्देश दिया गया कि ऐसे कुपोषित बच्चों के परिवारों को गौ आश्रय केंद्र से दुधारू गाय उपलब्ध कराई जाए, जिससे कि उन बच्चों को पौष्टिक आहार दूध मिल सके तथा गाय के गोबर से कंपोस्ट खाद तैयार कर पौष्टिकता के लिए हरी सब्जी किचन गार्डन में उगाकर वे प्राप्त कर सके।


इसी क्रम में आज इस गांव के निवासी शेषनाथ व उनकी पत्नी ममता को कुपोषित बच्चों के कुपोषण को दूर करने के लिए जिलाधिकारी ने दुधारू गाय की व्यवस्था कराई। जिलाधिकारी ने कहा कि गौ आश्रय केंद्र में 15 गाय दुधारू गौ वंश है, जिन्हें ऐसे ही अति कुपोषित बच्चों के परिवारों को दिया जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि इन गायों के पालन के लिए रुपए 30 प्रतिदिन की दर से प्रतिमाह रुपए 900 की धनराशि भी इन परिवारों को मिलेगा। जिलाधिकारी ने परिवारी जनों को गौ सेवा के साथ साथ अपने बच्चों का समुचित देखभाल किए जाने को कहा। साथ ही आंगनबाड़ी कार्यकर्ती को कहा कि यदि इस बच्ची का वे कुपोषण दूर कराएंगी तो उन्हें सम्मानित किए जाने हेतु चयनित किया जाएगा।

इस अवसर पर जिलाधिकारी ने उपस्थित जनों से शौचालय आदि के निर्माण सहित उनकी समस्याओं को जाना। गांव के रूप चंद गुप्ता द्वारा कोटेदार द्वारा राशन नहीं मिलने, अमर चौहान द्वारा आवास नही होने तथा दीपचंद द्वारा शौचालय बनवाए जाने की मांग की गई, जिस पर जिलाधिकारी ने त्वरित कार्रवाई कराए जाने का निर्देश खंड विकास अधिकारी सदर आलोक दत्त उपाध्याय को दिया।
जिलाधिकारी ने इस गांव में साफ सफाई व्यवस्था पर असंतोष जताया तथा समुचित रूप से साफ सफाई कराए जाने का निर्देश भी दिया। उन्होंने बच्चे के पिता शेषनाथ से पूछा है क्या जॉब कार्ड बना है और किस आवास में रहतें है, तो उनके द्वारा बताया गया कि जाब कार्ड बना हुआ है और कार्य भी करता हूं, पुराना आवास मिला हुआ है, जिसमें हम तीन भाई सहित सभी परिवारी जन रहते हैं।
इस अवसर पर जिलाधिकारी के साथ मुख्य विकास अधिकारी शिव शरणप्पा जी0एन0 ने भी गाय को गुण व चना खिलाया।मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डा0 विकास साठे, जिला कार्यक्रम अधिकारी कृष्ण कांत राय, सी डी पी ओ दयाराम,खंड विकास अधिकारी, ग्राम प्रधान प्रतिनिधि व अन्य ग्रामवासी गण आदि उपस्थित रहे।

विज्ञापन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here