बाढ स्टेयरिंग कमेटी की बैठक हुई सम्पन्न,सभी तैयारियों को पूर्ण रखे जाने का जिलाधिकारी ने दिया निर्देश


देवरिया टाइम्स

जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन बाढ स्टेयरिंग कमेटी की बैठक गूगल मीट के मध्यम से की। इस दौरान बाढ एवं आपदा प्रबंधन के तैयारी कार्यो की समीक्षा की। उन्होने निर्देश दिया कि सभी आवश्यक प्रबंध सभी जुडे विभाग सुनिश्चित रखेगें, इसमें किसी भी स्तर पर कोई शिथिलता नही रखेगें। इस गूगल मीट में जनप्रतिनिधि गण जुडे रहे। पशु पालन मत्स्य राज्य मंत्री जय प्रकाश निषाद एवं सदर विधायक डा सत्य प्रकाश मणि त्रिपाठी, बरहज विधायक सुरेश तिवारी ने क्षेत्रीय जनहित के समस्याओं व जरुरतों से अवगत कराते हुए उसका समाधान कराये जाने की अपेक्षा किये, जिसके क्रम में जिलाधिकारी ने संबंधित विभागो को आवश्यक निर्देश देते हुए लायी गयी सभी समस्याओं का समाधान कराये जाने को कहा।
जिलाधिकारी श्री निरंजन ने अपर जिलाधिकारी वित्त को निर्देश देते हुए कहा कि गत बाढ अवधि में मलाहो के भुगतान लम्बित हो, उसे शतप्रतिशत सुनिश्चित किया जाये और उसकी पत्रावली मेरे समक्ष प्रस्तुत की जाये। उन्होने यह भी कहा कि किसी भी दशा में छोटी नावे नही चलेगीं। केवल मझोली व बडी नौका ही चलेगी। छोटी नावो से दुर्घटनाये ज्यादे होती है। राजस्व विभाग इसका अक्षरशः पालन सुनिश्चित करेगें। स्वास्थ्य विभाग दवाओं की उपलब्धता, साप काटने के इन्जेक्शन व अन्य आवश्यक स्वास्थ्य सेवायें उपलब्ध रखेगें। मुख्य पशु चिकित्साधिकारी चारे, टीके आदि की भी व्यवस्था सुनिश्चित करायेगे, इसमें लापरवाही नही होनी चाहिये। उन्होने सभी जुडे विभागो को अपने संबंधित कार्य बिन्दुओं के प्रति सचेष्ट रहने का निर्देश दिया।

उन्होने अधिशासी अभियंता बाढ को कार्य परियोजनाओ को समय से पूरा कराये जाने एवं तटबंधो के वार्षिक मरम्मत कार्य को भी कराये जाने का निर्देश दिया। उन्होने जनपद में बाढ कन्ट्रोल रुम को भी स्थापित किये जाने का निर्देश दिया। उन्होने कृषि विभाग को निर्देश दिया कि बाढ से यदि फसलो का नुकसान हो तो उसकी क्षति मुआवजा कृषको को दिये जाने के लिये कृषि विभाग अपनी पूरी रणनीति तैयार कर उस पर कार्य करें। उन्होने बाढ सुरक्षा समितियों को भी निर्देश उप जिलाधिकारियों को दिया।


मत्स्य राज्य मंत्री जय प्रकाश निषाद ने सडकों एवं अन्य निर्माण कार्यो की धीमी प्रगति से अवगत कराते हुए इसमें गति लाये जाने का निर्देश दिया। उन्होने कहा कि बाढ तटबंधो एवं सडको के निर्माण कार्यो की धीमी प्रगति है, इसकी समीक्षा कर कार्यो में तेजी लाया जाये। सदर विधायक सत्यप्रकाश मणि त्रिपाठी ने कुर्ना नाला की सफाई एवं इस पर अतिक्रमण देवरिया बेलडार सडक की खराब स्थिति, ट्रान्सफार्मर व जर्जर तार, जल निगम विभाग द्वारा सडको की खुदायी कर पैचिंग कार्यो को नही किये जाने की समस्याओं को रखा। जिलाधिकारी ने जनप्रतिनिणि गण द्वारा रखे गये जनहित से जुडी सभी समस्याओं का प्राथमिकता के साथ समाधान कराये जाने का निर्देश अधिशासी अधिकारी को दिया। उन्होने जल निगम विभाग को निर्देश दिया कि जनप्रतिनिधि गण द्वारा जो समस्याये रखी गयी है, उसके लिये क्षेत्र में भ्रमण कर फीडबैक ले और उस पर त्वरित रुप से कार्य कराये जाये।


गूगल मीट में संबंधित विभागो द्वारा बाढ प्रबंधन, जल जमाव, आपदा प्रबंधन की तैयार कार्य योजनाओं की विस्तृत रुप रेखा प्रस्तुत की गयी। अपर जिलाधिकारी वित्त उमेश कुमार मंगला ने राजस्व विभाग द्वारा तैयार कार्य योजना बाढ चौकी, नाव की उपलब्धता, खाद्य पदार्थो की उपलब्धता आदि की जानकारी दी गयी। उन्होने यह भी बताया कि सभी नगर निकायों/नगरपालिकाओं में जल जमाव से निपटने की कार्य योजना तैयार की गयी है। रुद्रपुर एवं बरहज ज्यादे बाढ प्रभावित क्षेत्र है, जिसके लिये सभी राजस्व एवं जुडे विभागो को निर्देश दिये गये। अधिशासी अभियंता बाढ एन के जाडिया ने बताया कि बाढ तटबंधों को संरक्षित करने के लिये 9 कार्य परियोजनाये है, जिस पर कार्य प्रचलित है तथा सभी तटबंधो पर चौकसी बरतने के निर्देश दिये गये है। जिला पूर्ति अधिकारी द्वारा बताया गया कि खाद्यान्न उपलब्धता के लिये टेन्डर की कार्यवाही की गयी है।
इस गूगल मीट से उप जिलाधिकारी सदर, बरहज, रुद्रपुर, सलेमपुर, भाटपाररानी, समीएमओ डा आलोक पाण्डेय, डीएसओ विनय कुमार, जिला कृषि अधिकारी मो0 मुजम्मिल, अधिशासी अधिकारी गण, सीवीओ डा विकास साठे आदि जुडे रहे।
प्रचारित-प्रसारित द्वारा सूचना विभाग देवरिया।

spot_img

Similar Articles

Advertismentspot_img

ताजा खबर