जिलाधिकारी ने की डूडा के कार्यों की समीक्षा,पीएम आवास योजना में लाभार्थियों के चयन में हो पारदर्शिता:डीएम



देवरिया टाइम्स।

जिलाधिकारी जितेंद्र प्रताप सिंह की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट स्थित कार्य कक्ष में देर सायं जिला नगरीय विकास अभिकरण (डूडा) के शासी निकाय की बैठक हुई। बैठक में पीएम स्वनिधि योजना की प्रभाविता को बढाने के दृष्टिगत आवश्यक दिशानिर्देश दिए गए।

पीएम स्वनिधि योजना के अंतर्गत जनपद में प्रथम लोन प्राप्त करने के 5373 लक्ष्य के सापेक्ष 5794 लोन स्वीकृत किए गए, जिसमें से 5757 लोन लोगों को उपलब्ध करा दिए गए। प्रथम लोन के 37 प्रकरण लंबित पाया गया, जिन्हें जिलाधिकारी ने लीड बैंक मैनेजर अरुणेश को प्राथमिकता के आधार पर सोमवार तक निस्तारित कराने का निर्देश दिया।


पीएम स्वनिधि योजना की द्वितीय लोन  के लक्ष्य 1415 के सापेक्ष 982 आवेदन स्वीकृत किए गए और उनमें से 780 आवेदनकर्ताओं को बीस हजार रुपये का लोन प्रदान किया गया। जिलाधिकारी ने समस्त नगर निकायों और बैंकों को समन्वय स्थापित कर लोन के आवेदन को निस्तारित कराने का निर्देश दिया।

जिलाधिकारी ने बताया कि पीएम स्वनिधि योजना सरकार की एक महत्वाकांक्षी योजना है जिसमें रेहड़ी पटरी विक्रेताओं को दस हजार रुपये का लोन दिया जाता है। प्रथम लोन चुकाने के बाद बैंक से एनओसी मिलती है, जिसके बाद बीस हजार रुपये के द्वितीय लोन के लिए आवेदन किया जा सकता है। यदि विक्रेता डिजिटल ट्रांजैक्शन करता है तो उसके द्वारा लिया गया लोन ब्याज मुक्त हो जाता है। डिजिटल साक्षरता बढ़ाने के लिए जागरूकता अभियान चलाने तथा नेहरू युवा केन्द्र के स्वयंसेवकों की सहायता लेने का निर्देश दिया।

जिलाधिकारी ने प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के तहत बेघर और झोपड़ी वालों को प्राथमिकता के आधार पर आवास उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि लाभार्थियों के चयन में पारदर्शिता बरती जाए। साथ ही समस्त अधिकारियों को चेतावनी भी दी कि यदि आवास वितरण में लाभार्थियों के चयन में किसी भी प्रकार की विसंगति या भ्रष्टाचार उनकी संज्ञान में आया तो कार्रवाई तय है। भ्रष्ट अधिकारियों और कर्मचारियों के विरुद्ध शासन की जीरो टॉलरेंस नीति के तहत कार्रवाई की जाएगी।

जिलाधिकारी ने सभी निकायों के अधिशासी अधिकारियों को वेंडिंग जोन और नॉन वेंडिंग जोन स्पष्ट करने का करने का निर्देश दिया। उन्होंने दीनदयाल अंत्योदय योजना, कौशल प्रशिक्षण, स्वयं सहायता समूह, स्वरोजगार योजना सहित विभिन्न योजनाओं की समीक्षा की। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी रवींद्र कुमार, अपर जिलाधिकारी (प्रशासन) कुंवर पंकज, परियोजना अधिकारी डूडा विनोद कुमार मिश्रा, इओ नगर पालिका रोहित सिंह, विकास तिवारी, समाज कल्याण अधिकारी जैसवार लाल बहादुर सहित विभिन्न अधिकारी मौजूद थे।

spot_img

Similar Articles

Advertismentspot_img

ताजा खबर