जिलाधिकारी ने की ‘मास्टर प्लान-2031’ की समीक्षा,हरित क्षेत्र बढ़ाकर 18 प्रतिशत करने का निर्देश


देवरिया टाइम्स। जिलाधिकारी जितेंद्र प्रताप सिंह ने देर सायं ‘अमृत योजना’ अंतर्गत तैयार की जारी जीआईएस आधारित ‘देवरिया मास्टर प्लान 2031’ की समीक्षा की। उन्होंने भविष्य की आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए ‘सस्टेनेबल डेवलपमेंट’ के अनुरूप मास्टर प्लान को अंतिम रूप देने का निर्देश दिया। मास्टर प्लान को शीघ्र ही अंतिम रूप देकर प्रकाशित किया जाएगा, जिसे 17 मई से 15 जून तक नगर पालिका देवरिया कार्यालय में आमजन के अवलोकनार्थ रखा जाएगा, जहाँ लोग अपनी आपत्तियाँ दर्ज करा सकते हैं।


जिलाधिकारी ने बताया कि ‘देवरिया मास्टर प्लान 2031’ चार लाख पचास हजार शहरी आबादी को ध्यान में रखकर बनाया गया है। इसमें साढ़े चार हजार हेक्टेयर भू-क्षेत्र शामिल है। इसमें सभी नागरिक सुविधाओं पर पर्याप्त ध्यान दिया गया है। मास्टर प्लान में ट्रैफिक व्यवस्था को दुरुस्त रखने तथा जनता को जाम से निजात दिलाने के लिए शहर के प्रमुख एंट्री और एग्जिट पॉइंट पर तीन ट्रांसपोर्ट नगर (बस अड्डे) प्रस्तावित हैं। कचरे के निस्तारण के लिए 2 सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट स्थापित किये जायेंगे। सरौरा में एक सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट का प्रावधान भी किया गया है।


समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने शहर का हरित क्षेत्र मास्टर प्लान में प्रस्तावित तीन प्रतिशत से बढ़ाकर 18 प्रतिशत करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि बढ़ते वायु प्रदूषण को देखते हुए हरित क्षेत्र अधिक से अधिक होना चाहिए। साथ ही कुरना नाला परियोजना को मैप पर अंकित करने को कहा। मास्टर प्लान में शहर की सीमान्तर्गत आने वाले सभी नालों के किनारे ग्रीन बफर तथा पोखरों के किनारे ग्रीन बेल्ट विकसित किये जायेंगे।


मास्टर प्लान में भविष्य की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए स्कूल, कॉलेज, अस्पताल,पार्क, प्ले ग्राउंड, इंडस्ट्रियल एरिया पर पर्याप्त ध्यान दिया गया है। मास्टर प्लान के अंतरिम प्रारूप का शीघ्र ही प्रकाशन करा दिया जाएगा, जिसे आमजन के अवलोकनार्थ 17 मई से 15 जून तक नगर पालिका के सभागार में रखा जाएगा। नागरिकों से प्राप्त आपात्तियों के निस्तारण के बाद ही मास्टर प्लान को अंतिम रूप दिया जाएगा।
‘मास्टर प्लान-2031’ की समीक्षा बैठक में एसडीएम सौरभ सिंह, ईओ नगर पालिका रोहित सिंह, असिस्टेंट टाउन प्लानर हितेश, कंसल्टेंट अली जैदी, सुनील, अधिशासी अभियंता जल निगम (शहरी) प्रदीप चौरसिया सहित विभिन्न अधिकारी मौजूद थे।

spot_img

Similar Articles

Advertismentspot_img

ताजा खबर