जिलाधिकारी ने की कर-करेत्तर, राजस्व, न्यायिक कार्यो की मासिक समीक्षा दिये आवश्यक निर्देश

विज्ञापन

देवरिया टाइम्स

कलक्ट्रेट सभागार में हुई कर-करेत्तर, राजस्व, न्यायिक कार्यो की मासिक समीक्षा के दौरान ं जिलाधिकारी अमित किशोर ने सभी उप जिलाधिकारियों एवं तहसीलदारों को सरकारी/सार्वजनिक जमीनो पर अवैध कब्जा प्राथमिकता के साथ हटाये जाने का निर्देश दिया है। साथ ही उन्होने वसूली कार्यो को मासिक मानक व निर्धारित लक्ष्य के अनुरुप शतप्रतिशत पूर्ति किये जाने का निर्देश दिया है।उन्होने राजस्व न्यायालय से जुडे सभी पीठासीन अधिकारियों को न्यायालयों में बैठने, हर हाल में दायरा से अधिक राजस्व वादो का निस्तारण प्रत्येक दशा में किये जाने का सख्त निर्देश दिया है। कहा है कि इसमें किसी प्रकार की कोताही नही होनी चाहिये।

    जिलाधिकारी श्री किशोर ने सभी तहसीलो में 10 बडे बकायेदारो के वसूली कार्य में प्रभावी तरीके से सक्रियता लाये जाने का निर्देश दिया है। उन्होने विद्युत अधिकारियों को निर्देश दिया है कि माह के तृतीय शनिवार व रविवार को आयोजित होने वाले उपभोक्ता शिकायत निवारण महाकैम्प को प्रभावी तरीके से क्रियान्वित करायंे एवं विद्युत से जुडी समस्याओं का त्वरित समाधान भी कराये। उन्होने कहा कि इसके लिये सभी उपखंड कार्यालयों के लिये 21 नोडल अधिकारी भी नामित किये गये है जो इस दिन स्वयं उपस्थित रह कर, विद्युत समस्याओं के निस्तारण का अनुश्रवण करेगें।

    जिलाधिकारी श्री किशोर राजस्व विभाग के सभी पीठासीन अधिकाारियों को कहा कि वे हर हाल में अपने न्यायालयो में बैठें, वादो का निस्तारण करे, साथ ही पानी, नाबदान, रास्ता के प्रकरणों के शिकायतो का भी प्राथमिकता से निस्तारण सुनिश्चित करायें। उन्होने वरासत अभियान में भी और तत्परता बरते जाने को कहा। समीक्षा में पाया गया कि वरासत के 13509 आनलाईन प्रकरण लेखपालो को प्राप्त हुए है जिसमें से 633 विवादित प्रकरण लेखपालो द्वारा बताया गया है, जबकि न्यायालय में मात्र 81 विवादित प्रकरण ही अभी तक आये है। उन्होने वरासत के आये सभी अविवादित मामलो को दर्ज कराये जाने का निर्देश दिया। स्वामित्व योजना की समीक्षा में उप जिलाधिकाारियों एवं तहसीलदारो को ड्रोन सर्वे, गाटा इन्ट्री शीघ्रता के साथ कराये जाने के निर्देश  भी जिलाधिकारी ने दिया।
    समीक्षा के दौरान पेंशन व राजस्व कर्मियों के प्रकरणो का भी समाधान कराये जाने का निर्देश दिया। कहा कि इसमें किसी प्रकार की हिलाहवाली न की जाये।
विज्ञापन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here