प्रभावहीन नेतृत्व के खिलाफ लामबंद हुए शिक्षक


देवरिया टाइम्स। ब्लॉक संसाधन केंद्र देवरिया के प्रांगण में शिक्षक भवन में विभिन्न ब्लॉक के सैकड़ों शिक्षकों ने एकत्रित होकर शिक्षकों की समस्याओं पर विमर्श किया एवं विभिन्न शिक्षक संघों की उदासीनता पर छोभ प्रकट करते हुए युवा शिक्षकों को नजरअंदाज करने का आरोप लगाया।


कार्यक्रम में शिक्षकों ने एक साझा बयान जारी करते हुए कहा कि शिक्षक संघों की मठाधीशी और डेलिकेट सिस्टम खत्म करके मतपत्र द्वारा पुनः चुनाव कराते हुए कमान नए हाथों में दी जाए जिससे कि शिक्षको की समस्याओं का समाधान हो सके।
शिक्षकों ने आये दिन वेरिफायर, बीएलओ,पदाभिहित एवं अन्य गैर गैर शैक्षणिक कार्यों में ड्यूटी लगा कर उनकी मानसिक और आर्थिक प्रताड़ना पर एकमत से विरोध करते हुए यह कहा कि व्यवस्था को इसका संज्ञान लेकर किस से तत्काल प्रभाव से खत्म करना चाहिए।


शिक्षकों ने चर्चा में यह बताया कि अन्य जनपदों में इस प्रकार का कोई भी गैर शैक्षणिक कार्य नही लिया जाता है जिससे उन्हें ऐसी समस्या का एमन नही करना पड़ता है। इस मामले में राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ की विभिन्न जनपदों में पहल का स्वागत करते हुए उनके द्वारा कराए गए कार्यों की सराहना की जिससे कि शिक्षक गैर शैक्षणिक कार्यों से मुक्त हो सके और शिक्षण कार्य पर ध्यान दे रहे हैं।.


बैठक में विवेक मिश्रा,एहसान उल हक,राघवेंद्र मौर्य,दुर्गेश्वर मिश्रा,ज्योति गुप्ता,अमरेंद्र यादव,नर्वदेश्वर मणि, शशांक मिश्रा,नूतन तिवारी,कंचनलता,आशुतोष,सौरभ,अभिषेक जायसवाल,सौरभ राय,अनुज पांडेय,आशुतोष नाथ तिवारी,कहकशा,मनीषा,अमित सिंह,दीपक जायसवाल, सुनीत तिवारी,प्रवीण यादव,शक्तिशील सिंह ,सुनील यादव, सौरभ वर्मा, रत्नाकर सिंह समेत सैकड़ो की संख्या में शिक्षक उपस्थित रहे।

spot_img

Similar Articles

Advertismentspot_img

ताजा खबर