संकल्प दिवस के रूप में मना शिक्षक दिवस


देवरिया टाइम्स।



स्थानीय खरजरवा स्थित कलिंद इंटरमीडिएट कॉलेज में भारत रत्न, पूर्व राष्ट्रपति डॉक्टर सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्म दिवस हर्षोल्लास के साथ मनाया गया ।सर्वप्रथम विद्यालय के प्रधानाचार्य ने केक काटकर कार्यक्रम की विधिवत शुरुआत की। उक्त अवसर पर विद्यालय के प्रधानाचार्य कहा कि भारत रत्न राधाकृष्णन की जयंती मनाना शिक्षक समाज के लिए गौरव की बात है।

वैसे तो गुरु शिष्य की परंपरा प्राचीन काल से चली आ रही है। कहते हैं जितना प्राचीन हमारी संस्कृति है उतना ही प्राचीन गुरु शिष्य की परंपरा भी है। एक आदर्श शिक्षक विद्यार्थी के अंदर उठती जिज्ञासाओं का समाधान करता है उसका मार्गदर्शन करता है तथा उसे विकास के रास्ते पर चलने का मार्ग प्रशस्त करता है। शिक्षक एक सामान्य व्यक्ति नहीं है बल्कि वह एक प्रकाश पुंज है जो विद्यार्थी के अंदर अज्ञानता रूपी अंधकार को दूर कर ज्ञान रूपी प्रकाश से अभिसिंचित करता है।

शिक्षक हमेशा अपने विद्यार्थी से उसका समर्पण मांगता है जो विद्यार्थी एक शिक्षक के प्रति समर्पित हो जाता है तो शिक्षक अपना संपूर्ण उसे प्रदान कर देता है। तभी तो कबीरदास जी कहते हैं कहत कबीर मैं पूरा पाया अर्थात जो संपूर्ण देता है। वही विद्यार्थी संपूर्ण पाता है। जो देने में कंजूसी करता है। उसे कुछ नहीं मिलता है ।संसार में कभी भी श्रेष्ठ शिक्षकों का अभाव नहीं रहा है और न आज है।

साथ ही आज भी कोई योग्य शिष्य श्रेष्ठ शिक्षक से वंचित नहीं है ।यह दोनों घटनाएं एक साथ घटित होती हैं कि सुपात्र को सब कुछ मिल जाता है लेकिन कुपात्र उसेसे वंचित रह जाता है। उक्त अवसर पर विद्यालय के शिक्षक श्रीनिवास सिंह, रामायण मणि, कमलेश सिंह ,श्रीनिवास पांडे, लाल बाबू यादव, शीला मिश्रा ,संदीप कुमार मल्ल, राम सुमेर पांडे, उमा मिश्रा, अनूप गुप्ता आदि विशेष रूप से मौजूद थे।

spot_img

Similar Articles

Advertismentspot_img

ताजा खबर