कूट रचित प्रमाण पत्रों के आधार पर नौकरी कर रहे सहायक अध्यापक पर मुकदमा

विज्ञापन

देवरिया टाइम्स


जनपद के भटनी क्षेत्र में पुलिस ने स्नातक व बीएड की फर्जी डिग्री पर नौकरी कर रहे एक सहायक अध्यापक पर गम्भीर धाराओं में केस दर्ज किया है। आरोपी शिक्षक क्षेत्र के गरवैसी पूर्व माध्यमिक विद्यालय पर सहायक अध्यापक के पद पर तैनात था। शिक्षा विभाग द्वारा अध्यापक को उनके पद से पहले ही बर्खास्त किया जा चुका है।
भटनी/बनकटा के खंड शिक्षा अधिकारी पिंगल प्रसाद राणा ने पुलिस को तहरीर दी है। इसमें उन्होंने बताया है कि उमेश यादव पुत्र राम नगीना यादव निवासी दुल्लार पट्टी थाना बघौचघाट का भटनी के पूर्व माध्यमिक विद्यालय गरवैसी में सहायक अध्यापक पद पर चयन हुआ था। उसकी सेवा पंजिका में अंकित विवरण के अनुसार स्नातक व बीएड के संबंध में सत्यापन की आख्या संबंधित कार्यालय में गई थी। अभिलेखों के आधार पर दोनों अंकपत्र व प्रमाण पत्र गलत पाए गए हैं। बेसिक शिक्षा कार्यालय देवरिया से उमेश को अपना पक्ष रखने के लिए निर्देशित किया गया था जिसके बाद उमेश ने अपना पक्ष जिला शिक्षा अधिकारी के सामने रखा।


उमेश का जवाब संतोषजनक नहीं होने के कारण उसे बर्खास्त कर दिया गया। रविवार को खंड शिक्षा अधिकारी ने पुलिस को तहरीर देकर उमेश के खिलाफ फर्जी स्नातक और बीएड का अंकपत्र व प्रमाण पत्र के आधार पर फर्जी तरीके से शिक्षा विभाग में नियुक्ति प्राप्त किए जाने के आरोप में केस दर्ज करने की मांग की।

पुलिस ने आरोपित शिक्षक पर धोखाधड़ी, कूटरचना, कूट रचित दस्तावेज को असली के रूप में प्रयोग करने का केस दर्ज किया है। एसओ मुकेश कुमार मिश्र ने बताया कि खंड शिक्षा अधिकारी भटनी की तहरीर पर गरवैसी पूर्व माध्यमिक विद्यालय में तैनात शिक्षक के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। जल्द ही आरोपी की गिरफ्तारी कर ली जाएगी।

विज्ञापन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here