त्योहारी सीजन में प्रवासियों के स्वास्थ्य परीक्षण हेतु आयोजित होंगे विशेष कैंप


देवरिया टाइम्स।

जिलाधिकारी जितेंद्र प्रताप सिंह की अध्यक्षता में आज विकास भवन स्थित गांधी सभागार में जिला एड्स समन्वय समिति की ग्राम स्तरीय स्वास्थ्य तैयारियों की समीक्षा की गई। जिलाधिकारी ने आगामी त्योहारी सीजन के दृष्टिगत विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश दिए।

जिलाधिकारी ने बताया कि जनपद देवरिया, बांदा, इटावा, मऊ एवं इलाहाबाद के साथ संवेदनशील जनपदों की श्रेणी में शामिल है। वर्ष 2006 से 2022 के मध्य जनपद में कुल 7020 एचआईवी पॉजिटिव व्यक्ति चिन्हित किए जा चुके हैं, जिनमें से 1467 लोगों की मृत्यु हो चुकी है। इनमें से अधिकांश मामले प्रवासियों द्वारा जनित हैं। लार, पथरदेवा, रुद्रपुर, भागलपुर एवं बनकटा इस दृष्टि से संवेदनशील ब्लॉक हैं। ऐसे में आगामी त्योहारी सीजन को देखते हुए विशेष सतर्कता बरतने की आवश्यकता है। स्वास्थ्य विभाग 15 अक्टूबर से 30 नवंबर के मध्य प्रवासियों के स्वास्थ्य परीक्षण हेतु 10 स्थानों पर विशेष कैंप का आयोजन करेगा।

जिलाधिकारी ने बताया कि स्वास्थ्य शिविर में आंगनबाड़ी कार्यकत्री, आशा, नेहरू युवा केंद्र के स्वयंसेवक, एनजीओ की सहभागिता प्रमुख रूप से होगी। स्वास्थ्य शिविर में प्रवासियों को कई तरह की जांच निशुल्क की जाएगी। इस कार्य में स्वास्थ्य विभाग के चिकित्सकों के अतिरिक्त राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के डॉक्टरों का भी सहयोग लिया जाएगा।जिलाधिकारी ने कहा कि एचआईवी के दृष्टिगत जनपद में नुक्कड़ नाटकों एवं विभिन्न संचार माध्यमों से जन जागरूकता अभियान भी चलाया जाएगा।

डिस्ट्रिक्ट एड्स प्रोजेक्ट मैनेजर उपेंद्र तिवारी ने बताया कि 2006 से 2022 के मध्य जनपद में 96 एचआईवी पॉजिटिव महिलाओं ने एचआईवी निगेटिव बच्चों को जन्म दिया है। वर्ष 2021-22 में जनपद में 300 एचआईवी पॉजिटिव केस दर्ज किए गए, जिसमें से 15 एएनसी एचआईवी पॉजिटिव मामले हैं।

समीक्षा बैठक में मुख्य विकास अधिकारी रवींद्र कुमार, सीएमओ डॉ राजेश झा, डॉक्टर संजय चंद सहित विभिन्न एमओआईसी एवं एनजीओ के प्रतिनिधि मौजूद थे।

spot_img

Similar Articles

Advertismentspot_img

ताजा खबर