महिलाओं की सामाजिक भागीदारी, नारी सशक्तिकरण तथा नारी एक अभिन्न अंग


देवरिया टाइम्स

शुक्रवार को जिला विधिक सेवा प्राधिकरण देवरिया के तत्वावधान में जनपद न्यायालय के ए0डी0आर0 भवन में राष्टीªय महिला दिवस की पूर्व संध्या पर महिलाओं के जज्बों का सम्मान किया गया। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण देवरिया के सचिव न्यायाधीश शिवेन्द्र कुमार मिश्र द्वारा जनपद न्यायाधीश रविनाथ का माला पहनाकर तथा पुष्प गुच्छ देकर सम्मान किया गया। जनपद न्यायाधीश रवि नाथ तथा जिला विधिक सेवा प्राधिकरण देवरिया के सचिव न्यायाधीश शिवेन्द्र कुमार मिश्र द्वारा इस सम्मान कार्यक्रम में उपस्थित महिलायें जिनमें न्यायालय महिला कर्मी, महिला अधिवक्ता, महिला पुलिस कर्मी, महिला खिलाड़ी तथा विभिन्न आयामों से जुड़ी महिलाओं का माला, पेण्टिंग तथा उपहार देकर सम्मान किया गया।

जनपद न्यायाधीश ने इस कार्यक्रम के माध्यम से महिलाओं के प्रति सम्मान, सामाजिक अवचेतना और नारी सशक्तिकरण पर आमजनमानस को जागरूक किया। उन्होंने कहा कि महिलाओं की सामाजिक भागीदारी, नारी सशक्तिकरण तथा नारी एक अभिन्न अंग हैं, इसके बिना हम समाज की कल्पना तक नहीं कर सकते हैं। उन्होंने उनके उज्जवल भविष्य की कामना करते हुये अपने लक्ष्य के प्रति तटस्थ रहने की बात बतायी। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण देवरिया के सचिव न्यायाधीश शिवेन्द्र कुमार मिश्र ने कहा कि 13 फरवरी, 1879 को स्वतंत्र भारत की प्रथम महिला गर्वनर सरोजिनी नायडू का जन्म हुआ था और उन्हीं के जन्मदिवस पर पूरा भारत राष्ट्रीय महिला दिवस के रूप में प्रत्येक 13 फरवरी को हर्षोल्लास के साथ मनाता हैं। इसलिए राष्ट्रीय महिला दिवस की पूर्व संध्या पर नारी सम्मान तथा नारी सशक्तिकरण हेतु उनका सम्मान कर आमजनमानस को जागरूक किया गया।

उन्होंने कहा कि महिलायें अपने अद्धभुत साहस, अथक परिश्रम तथा दूरदर्शी बुद्धिमता के आधार पर विश्व में अपनी पहचान बनाने में कामयाब रहीं हैं। महिलाओं ने हमेशा से ही एक श्रमिक के रूप में, एक माॅ के रूप में तथा एक अच्छे नागरिक के रूप में अपनी भूमिका का पूरी निष्ठा के साथ निर्वहन किया हैं। नारियों में अपरिमित शक्ति और क्षमताएं विद्यमान हैं, व्यावहारिक जगत के सभी क्षेत्रों में उन्होंने कई महत्तम कीर्तिमान स्थापित किये हैं।

चाहे देश की सुरक्षा हो, विज्ञान हो, खेल हो, समाज सेवा हो, चिकित्सा हो, राजनीति हो, अपने देश के प्रति आर्थिक योगदान हो हर क्षेत्र में नारी ने अपना स्मरणीय योगदान दिया हैं। इस कार्यक्रम मुख्य रूप से उपनिरीक्षक प्रीति सिंह, वन स्टाप सेण्टर काउंसलर मीनू जायसवाल, न्यायालय महिला कर्मी पूनम श्रीवास्तव तथा अंजना राय, अंतर्राष्टीªय ताइक्वांडो खिलाड़ी प्रियंका कुमारी, राष्टीªय हाकी खिलाड़ी विजय लक्ष्मी शर्मा, महिला स्वास्थ्यकर्मी वर्षा सिंह, महिला पुलिस कर्मी गीता यादव तथा श्वेता सिंह तथा महिला अधिवक्ता जिनमें आशा पाण्डेय, वीनू वर्मा, रीता पाण्डेय, अंशु मिश्रा, अंकिता राव, सलमा खातून, पूजा सिंह, आभा श्रीवास्तव, गिरीजा यादव, अनुराधा मिश्र, ज्योति सिंह, रेशमा चैरसिया, सुमन यादव, पूनम सिंह, सरीता सिंह, अल्पना यादव, माया पाण्डेय तथा नेहा विश्वकर्मा को सम्मान किया गया।

spot_img

Similar Articles

Advertismentspot_img

ताजा खबर