गांजा की तस्करी करने वाले छह गिरफ्तार

विज्ञापन

देवरिया टाइम्स

बोलेरो गाड़ी में चैम्बर बनाकर गांजा की तस्करी करने वाले गिरोह के छह सदस्यों को एसओजी, रामपुर कारखाना और महुआडीह पुलिस ने शुक्रवार को गिरफ्तार किया। रामपुर कारखाना पुलिस ले 101 किलोग्राम व महुआडीह थाने की पुलिस ने 51 किलोग्राम गांजा बरामद किया।

पत्रकारवार्ता में एसपी डॉ. श्रीपति मिश्र ने बताया कि एसओजी प्रभारी अनिल यादव और रामपुर कारखाना थानेदार घनश्याम सिंह गश्त कर रहे थे। इसी बीच मुखबीर ने तस्करों के बारे में सूचना दिया। पुलिस और एसओजी ने हिरन्दापुर तिराहे के समीप पहुंचे थे कि बैतालपुर की तरफ से आ रहे बोलेरों को रोका तो उसने गाड़ी की गति को बढ़ा दिया। पुलिस ने घेरा बंदी कर गाड़ी को रोका। बोलेरो की तलाशी लेने पर उसमें से 101 किलोग्राम गांजा बारामद हुआ। पुलिस ने गाड़ी से चार लोगों को गिरफ्तार किया। पूछताछ में तस्करों ने अपना नाम विकास सिंह पुत्र टुनटुन सिंह नरकटीहा बाजार थाना उचका जिला गोपालगंज , हरेश उर्फ हरीश यादव पुत्र जयनरायन यादव निवासी परोही थाना बरवापट्टी जिला कुशीनगर, रानी पत्नी मन्नान निवासी तरयासुजान जनपद कुशीनगर और सरोज देवी पत्नी रविन्द्र यादव निवासी रानेपुर थाना कटया जिला गोपालगंज, बिहार बताया। पुलिस ने तस्करों से पूछताछ किया तो उन्होंने बोलेरो में फाटक और सीट के नीचे चैम्बर बनाकर गांजा रखने की बात कहीं। तस्करों ने बताया कि गांजा को राजस्थान से लेकर सीवान तक पहुंचाते है। सीवान से गाड़ी को लेकर राजस्थान जाते है और दो महिलाओं को बैठाकर गाड़ी में गांजा रखकर लेकर आते हैं। इसके लिए पुरुषो को दस हजार और महिलाओं को पांच हजार रुपया मिलता है। बरामद गांजा की कीमत बाजार मं लगभग 10.10 लाख रुपये बताई जा रही है। तस्करों को दबोचने वाली टीम में रामपुर कारखाना के थानेदार दारोगा घनश्याम सिंह, एसओजी के प्रभारी अनिल कुमार यादव, दारोगा संतोष सिंह, गोपाल प्रसाद, हेडकांस्टेबल योगेन्द्र प्रसाद, कांस्टेबल अरूण खरवार, सुदामा यादव, मेराज, प्रशान्त शर्मा, विमलेश सिंह, राहुल सिंह, रामपुर कारखाना के कांस्टेबल विजेन्द्र यादव, विनोद पाल, महिला कांस्टेबल प्रीति पाण्डेय और नीलम यादव आदि मौजूद रही।

विज्ञापन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here