सचिव ने किया जिला कारागार देवरिया का औचक निरीक्षण एवं दी विधिक जानकारियॉ


देवरिया टाइम्स। सोमवार को राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण लखनऊ के निर्देशानुसार एवं जनपद न्यायाधीश/अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण देवरिया के आदेशानुसार जिला विधिक सेवा प्राधिकरण देवरिया के तत्वावधान में जिला कारागार देवरिया के बैरकों, पाकशाला का औचक निरीक्षण तथा समयपूर्व रिहाई के संबंध में विधिक जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया।


जिला विधिक सेवा प्राधिकरण देवरिया के सचिव इशरत परवीन फारूकी द्वारा सर्वप्रथम वहॉ उपस्थित निरूद्ध बंदियों का हाल-चाल जाना गया तथा उनकों विधिक जानकारियॉ दी गयी। सचिव द्वारा जिला कारागार देवरिया में बैरकों, पाकशाला में निरंतर स्वच्छता बनायें रखने पर जोर दिया गया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने महिला बैरकों में निरंतर मीनू के अनुसार ही भोजन बनाने का निर्देश दिया। उन्होंने महिला बंदियों हेतु पौष्टिक भोजन, उनके साथ रह रहें बच्चों के लिए दूध की व्यवस्था, शिक्षण हेतु व्यवस्था, साफ-सफाई एवं दवा की व्यवस्था कराने हेतु आवश्यक निर्देश दिया।


सचिव द्वारा जेल में स्थापित लीगल ऐड क्लीनिक का निरीक्षण करते हुये कहा गया कि यदि किसी बंदी को अपने मामलें में पैरवी की आवश्यकता हो तो वह जिला विधिक सेवा प्राधिकरण देवरिया द्वारा निःशुल्क अधिवक्ता प्राप्त कर विधिक सहायता ले सकता हैं तथा कारागार के महिला बैरक की पी0एल0वी को महिला बन्दियों के समस्याओं को चिन्ह्रित करके आवश्यक सुझाव हेतु निर्देशित किया गया।
जिला कारागार के कारापाल राजकुमार ने वहॉ उपस्थित बंदियों कों समयपूर्व रिहाई के संबंध में विस्तृत जानकारियॉ दी। उन्होंने महिला बन्दियों कों कहा कि यह आपका अधिकार हैं कि यदि आपके बच्चे नाबालिग हैं तो अपने बच्चों को जेल में रह कर भी पढ़ा सकते हैं।
इस दौरान जेल कारापाल राजकुमार, उप कारापाल वन्दना त्रिपाठी एवं वन्दना, एंव इत्यादि बन्दीरक्षक उपस्थित रहें।

spot_img

Similar Articles

Advertismentspot_img

ताजा खबर