अभियान चला कर एकत्रित किए गए नमूने



देवरिया टाइम्स। सहायक आयुक्त (खाद्य )-ll
खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन रमेश चन्द्र पाण्डेय ने बताया है कि आयुक्त खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन सेक्टर सी अलीगंज लखनऊ उत्तर प्रदेश द्वारा प्राप्त दिशा निर्देशों तथा जिलाधिकारी द्वारा दिए गए आदेशों के अनुपालन में गुरुवार को खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन जनपद देवरिया की टीम ने रीयूज्ड कुकिंग आयल पर अभियान चलाते हुए कुल पांच नमूने टीपीएम (टोटल पोलर मैटेरियल)जांच हेतु एकत्रित किए तथा संचारी रोगों के नियंत्रण की रोकथाम हेतु भाटपार रानी में खाद्य सुरक्षा अधिकारी द्वारा अभियान चलाते हुए रेलवे स्टेशन और बस स्टैंड के आसपास की दुकानों से दूषित मिठाइयां जो मानव उपभोग मानव उपभोग हेतु उपयुक्त नहीं थी , नष्ट कराया गया।


विस्तृत विवरण में शहर में खाद्य सुरक्षा अधिकारी रंजन कुमार श्रीवास्तव द्वारा ज्ञानी समोसे के रीयूज्ड कुकिंग आयल का नमूना एकत्रित किया गया तथा सदर क्षेत्र के सकरापार स्थित लघु नमकीन की विनिर्माण इकाई संदीप नमकीन भंडार से पामोलिन आयल का नमूना संदीप कुमार श्रीवास्तव खाद्य सुरक्षा अधिकारी द्वारा एकत्रित किया गया।
डॉ सुभेस कुमार द्वारा मालवीय रोड ओवर ब्रिज के नीचे छोला भटूरा की दुकान संचालित करने वाले से रीयूज्ड पामोलिन आयल का नमूना संग्रहित किया गया।


खादय सुरक्षा अधिकारी अजीत कुमार त्रिपाठी द्वारा डुमरी चौराहा रामपुर कारखाने से यूज्ड कुकिंग मस्टर्ड आयल का नमूना एकत्रित किया गया तथा शहर के हनुमान मंदिर पर स्थित स्ट्रीट वेंडरों द्वारा समोसे व अन्य उत्पाद बनाने वाली दुकान से रीयूज्ड पामोलिन आयल का नमूना एकत्रित किया गया।


उपरोक्त सभी नमूने खाद्य विश्लेषण प्रयोगशाला झांसी को प्रेषित किए जा रहे हैं ,जाँच रिपोर्ट प्राप्त होने के उपरांत अग्रिम कार्यवाही की जाएगी।
संचारी रोगों के नियंत्रण हेतु भाटपार रानी तहसील में रंजन कुमार श्रीवास्तव द्वारा बस स्टैंड एवं आसपास के क्षेत्रों में सड़ी गली मिठाइयाँ जो लगभग 10 किलो मात्रा में थी, विनष्ट कराया गया ,जिनका मूल्य लगभग ₹2000 था। उपरोक्त अभियान का संचालन सहायक आयुक्त खाद्य रमेश चंद्र के नेतृत्व में किया गया।

spot_img

Similar Articles

Advertismentspot_img

ताजा खबर