विद्यालयों के संविलियन के चलते मतदान केंद्र घटे,मतदेय स्थल बढे


देवरिया टाइम्स

विधानसभा चुनाव 2022 की तैयारियों में जिला प्रशासन जुट गया है। कोरोना संक्रमण को देखते हुए इस बार 1200 मतदाताओं के आधार पर मतदान केंद्र व मतदेय स्थल नए सिरे से तय किए गए। विकास भवन में मंगलवार को राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों के साथ हुई बैठक में मुख्य राजस्व अधिकारी अमृतलाल बिद ने यह जानकारी दी।

जिले के सातों विधानसभा क्षेत्र में 1633 मतदान केंद्र व 2629 मतदेय स्थल बनाए गए थे। मतदाताओं की संख्या के आधार पर इसमें बदलाव के लिए आपत्ति व सुझाव मांगे गए थे। जिसका निस्तारण कर दिया गया है। परिषदीय विद्यालयों के संविलियन के चलते 64 मतदान केंद्रों की संख्या घट गई है, लेकिन मतदेय स्थलों में 104 की बढ़ोत्तरी हुई है। 2022 के विधानसभा चुनाव में सातों विधानसभा क्षेत्र में कुल 1596 मतदान केंद्र व 2733 मतदेय स्थल होंगे, जिसमें रुद्रपुर में मतदान केंद्रों की संख्या 201 व मतदेय स्थलों की संख्या 374, देवरिया सदर में मतदान केंद्रों की संख्या 184 व मतदेय स्थलों की संख्या 394, पथरदेवा में मतदान केंद्रों की संख्या 238 व मतदेय स्थलों की संख्या 394, रामपुर कारखाना में मतदान केंद्रों की संख्या 259 व मतदेय स्थलों की संख्या 415, भाटपाररानी में मतदान केंद्रों की संख्या 252 व मतदेय स्थलों की संख्या 400, सलेमपुर में मतदान केंद्रों की संख्या 217 व मतदेय स्थलों की संख्या 387, बरहज में मतदान केंद्रों की संख्या 245 व मतदेय स्थलों की संख्या 369 शामिल है। उन्होंने कहा कि 15 सितंबर को कंट्रोल टेबल की इंट्री व 17 सितंबर को विधानसभा क्षेत्रवार मतदेय स्थलों की सूची को जिला निर्वाचन कार्यालय को उपलब्ध कराया जाएगा। एसडीएम बरहज संजीव कुमार यादव, एसडीएम न्यायिक बरहज सुनील कुमार सिंह, एसडीएम न्यायिक ओमप्रकाश, तहसीलदार सलेमपुर रामाश्रय, सपा के अशोक यादव, कांग्रेस के शिवशंकर सिंह, भाजपा के अंबिकेश पांडेय, सीपीआइ के आनंद प्रकाश चौरसिया, मा‌र्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के उदयभान यादव, एनसीपी के तारकेश्वर मणि त्रिपाठी, आरएलडी के शिवदत्त पाठक, बसपा के रोहित गौतम आदि मौजूद रहे।

spot_img

Similar Articles

Advertismentspot_img

ताजा खबर