करीब एक साल बाद पैसेंजेर ट्रेन एक्सप्रेस बनकर दौड़ी

विज्ञापन
savitri
Caption Two
3 / 3
maneesh

देवरिया टाइम्स

कोरोना संक्रमण काल के कारण ग्यारह माह बाद गोरखपुर-छपरा रेल खंड पर पैसेंजर ट्रेन एक्सप्रेस बनकर दौड़ी। टिकट लेने के लिए टिकट काउंटर पर लोगों की भीड़ देखी गई। माना जा रहा है कि पैसेंजर ट्रेनों के एक्सप्रेस बनकर चलने से जल्द ही रेल सेवा पुरानी व्यवस्था पर आ जाएगी और राजस्व भी अधिक होगा।

कोरोना संक्रमण काल को देखते हुए मार्च 2020 में रेल सेवा ठप कर दी गई। लंबी दूरी की एक्सप्रेस ट्रेनों का संचलन तो पहले ही शुरू हो गया है, लेकिन नजदीक के स्टेशनों के बीच ट्रेनों का संचलन शुरू नहीं हुआ था। रेलवे बोर्ड ने पैसेंजर ट्रेनों को एक्सप्रेस बनाकर संचालित करने का निर्देश दिया है। इस क्रम में गोरखपुर-छपरा रेल खंड पर गोरखपुर से सिवान, सिवान से गोरखपुर, गोरखपुर से छपरा, छपरा से गोरखपुर के बीच चार पैसेंजर ट्रेनों को चलाने का आदेश हो गया है। गोरखपुर से सिवान के लिए रविवार की शाम एक पैसेंजर ट्रेन को एक्सप्रेस बनाकर चलाया गया। सोमवार से चारों ट्रेन चलने लगेगी। हालांकि देर शाम तक सलेमपुर से बरहज तक चलने वाली बरहजिया ट्रेन को चलाने की अनुमति नहीं आई थी। खास बात यह है कि इसमें एक्सप्रेस ट्रेन का किराया लगेगा और न्यूनतम किराया तीस रुपये होगा। स्टेशन अधीक्षक आइ अंसारी ने कहा कि एक पैसेंजर ट्रेन को आज एक्सप्रेस बनाकर चलाया गया है।

विज्ञापन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here