स्वामित्व योजना के अन्तर्गत ग्रामीण आवासीय अभिलेख(घरौनी) का आनलाईन हुआ वितरण

विज्ञापन


मुख्यमंत्री ने बटन दबाकर डिजिटल अभिलेख का किया शुभारम्भ
वीडियों कान्फ्रेसिंग के माध्यम से भू-स्वामियों से किया संवाद्
स्वामित्व योजना नई क्रान्ति, गरीबों व किसानो को इससे मिलेगा उनका हक-सीएम

जिलाधिकारी ने इस महत्वाकांक्षी योजना को समयबद्धता से पूर्ण कराये जाने का दिया निर्देश
ग्रामीण क्षेत्र के आवासीय भूमि का स्वामित्व प्रमाणपत्र से भू-स्वामियों को मिलेगा लाभ
विवादों के समाधान में भी काफी होगा उपयोगी-डीएम
अब तक 1513 ग्रामों के 21874 गाटों की कर ली गयी है फीडिंग

देवरिया(सू0वि0) 12 फरवरी। ‘‘आपकी सम्पति आपका का अधिकार सबके लिये सम्पति का डिजिटल अभिलेख’’ के महत्वाकांक्षी कार्यक्रम के तहत संचालित स्वामित्व योजना अन्तर्गत लखनऊ में आयोजित घरौनी आनलाईन वितरण कार्यक्रम की शुरुआत मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ ने बटन दबाकर किया। इस दौरान उन्होने विभिन्न जनपदों के 7 भू-स्वामियों को ग्रामीण आवासीय अभिलेख(घरौनी) स्वामित्व योजना के तहत प्रदान किया एवं भू-स्वामियो से संवाद कर, इस योजना के संबंध में उनसे फीडबैक भी लिया तथा उन्हे बधाई एवं शुभाकामना भी दिये। उन्होने कहा कि स्वामित्व योजना एक नई क्रान्ति है, जिससे गरीबो और किसानो को उनके भूमि का हक मिलेगा। जमीनो का विवाद का समाधान इससे होगा। प्रदेश की जनता को शासन की योजनाओं की जानकारी व लाभ लेने में इससे मद्द मिलेगी।


आयोजित इस आनलाईन वितरण कार्यक्रम में वीडियों कान्फ्रेसिंग के माध्यम से जिलाधिकारी अमित किशोर एवं मुख्य राजस्व अधिकारी अमृत लाल बिन्द इस कार्यक्रम से जुडे। वीडियों कान्फ्रेसिंग पश्चात जिलाधिकारी श्री किशोर ने जनपद में स्वामित्व योजनाओं के ड्रोन के माध्यम से सर्वेक्षण कार्य प्रगति की जानकारी ली एवं आवश्यक निर्देश दिये। बताया गया कि अब तक ड्रोन द्वारा 87 गांवों का सर्वे किया जा चुका है। स्वामित्व पोर्टल पर 1513 ग्रामों के 21874 गाटों की फीडिंग तहसील स्तर से करायी गयी है। पायलट प्रोजेक्ट के अन्तर्गत पूर्व में ड्रोन द्वारा सर्वेक्षित 10 ग्रामों में घरौनियों का वितरण किया जा चुका है। शासन द्वारा कुल 1895 आबादी ग्रामों में स्वामित्व योजना के लिये अधिसूचित है।

जिलाधिकारी ने कहा कि स्वामित्व योजना एक अति महत्वांकांक्षी योजना है, इससे ग्रामीण क्षेत्रों में आवासीय जमीनो का स्वामित्व(घरौनी) मिलेगी, जो शासन द्वारा संचालित विभिन योजनाओं में उपयोगी होगा तथा भू-स्वामियों को मालिकाना हक भी मिलेगा, यह योजना विवादों के समाधान में काफी उपयोगी होगा। उन्होने इसमें आ रही समस्याओं के संबंध में जानकारी की, बताया गया कि कोई समस्या नही है, गांवो में पंचायती राज विभाग द्वारा चूना गिराये जाने का कार्य किया जा रहा है। उन्होने इस महत्वाकांक्षी योजना को समयबद्धता के साथ संचालित किये जाने निर्देश दिया।
इस अवसर पर ई-डिस्ट्रिक मैनेजर राजीव मिश्रा, संजय कुमार, नर्वदेश्वर कुमार आदि उपस्थित रहे।

विज्ञापन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here