जिलाधिकारी के निर्देश पर नाला निर्माण से जुडे फर्म पर लगाया गया 05 लाख का अर्थदण्ड


देवरिया टाइम्स। नगरपालिका परिषद देवरिया क्षेत्र के जल निकासी हेतु निर्माणाधीन कार्य परियोजना आर0सी0सी0 स्ट्रोम वाटर ड्रेन का कार्य जिलाधिकारी जितेन्द्र प्रताप सिंह ने अपने निरीक्षणो के दौरान काफी धीमी पाये जाने पर गहरी नाराजगी जतायी थी तथा कार्यदायी संस्था पर इस विलम्ब के लिए कार्यवाही किये जाने का निर्देश अधीक्षण अभियंता जल निगम एस0के0 वर्मा को दिया, जिसके क्रम में अधीक्षण अभिंयता श्री वर्मा ने कार्यदायी संस्था मेसर्स नन्द एण्ड सन्स(जे0वी0) वार्ड-8 किदवई नगर चन्दौली को धीमी प्रगति के लिए 05 लाख रुपये का अर्थदण्ड लगाया है। साथ ही इस कार्य परियोजना को डे- नाइट युद्ध स्तर पर करते हुए वांक्षित प्रगति लाये जाने के निर्देश दिए गए है। अन्यथा की स्थिति में अनुबंध की शर्तो के अनुसार फर्म पर कार्यवाही की जायेगी।


अधीक्षण अभियंता श्री वर्मा ने निर्गत कार्यवाही पत्र में यह उल्लिखित किया है कि इस कार्य परियोजना के प्रारम्भ की तिथि 07 जनवरी 2022 निर्धारित की गयी थी, 31 अप्रैल तक 04 माह का समय व्यतीत होने पर भी नाले के निर्माण की प्रगति सन्तोषजनक नही पायी गयी। नगर में जल निकासी की समस्या इस कार्य के धीमी प्रगति से बनी रहेगी। इससे यह स्पष्ट होता है कि कार्यदायी संस्था द्वारा कार्यो को पूर्ण करने में कोई रुचि नही ली जा रही है।

बार-बार विभिन्न माध्यमो से समयबद्धता के साथ कार्य पूर्ण किए जाने के लिए निर्देशित किया जाता है, परन्तु अपेक्षित कोई सुधार नही दिखा। उन्होने फर्म को निर्देशित किया है कि कार्य स्थल पर मजदूरों की संख्या में वृद्धि कर डे-नाइट कार्यो को करायें और समय रहते इस महत्वपूर्ण जन सुविधा से जुडी परियोजना को पूर्ण कराना सुनिश्चित करें, अन्यथा अर्थदण्ड के अलावे भी अन्य विभागीय कठोरतम कार्यवाही सुनिश्चित करायी जायेगी।

spot_img

Similar Articles

Advertismentspot_img

ताजा खबर