शोध विज्ञान के छात्रों की प्रकृति: पी के शर्मा


देवरिया टाइम्स


स्थानीय खरजरवा स्थित कलिन्द इंटरमीडिएट कॉलेज पर विज्ञान मॉडल प्रदर्शनी का आयोजन हुआ, कार्यक्रम के मुख्य अतिथि की के अमर उपायुक्त उद्योग केंद्र, अध्यक्षता प्रदीप कुमार शर्मा प्रधानाचार्य जीआईसी, विशिष्ट अतिथि मनोज कुमार मिश्र डीएसटीओ थे। विद्यालय के छात्र-छात्राओं ने समय की आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए समाज में कौन कौन सी बस्तुऐ मानव जाति के लिए आवश्यक है किन-किन वस्तुओं का समाज में अनावश्यक दुरुपयोग हो रहा है इस पर ध्यान देकर बच्चों ने मॉडल प्रस्तुत किए थे।

माडलों में मुख्य रूप से पावर जनरेटर, वाटर कंजर्वेशन, वाटर मैनेजमेंट, स्ट्रीट लाइट सिस्टम, मेटल डिटेक्टर, सोलर पावर सिस्टम, रेन वाटर हेविटिंग सिस्ट , पोटैटो गन आदि को सभी ने सराहना की, लेकिन वाटर पावर जनरेटर एवं पोटैटो गन की सराहना सभी अतिथि गण है किया पोटैटो गन एक इस प्रकार का गन है जो फायर करने के बाद वातावरण में प्रदूषण फैलता है उसे रोकता है जिसके कारण बॉर्डर पर सैनिकों का स्वास्थ्य बेहतर रहता है। उक्त अवसर पर जीआईसी के प्रधानाचार्य पीके शर्मा ने कहा कि विज्ञान के छात्र जहां भी रहते हैं वह कुछ ना कुछ शोध करते रहते हैं और उन्ही शोधों को मॉडल का रूप देकर देश के सामने प्रस्तुत करते हैं आज उन्हीं शोधों का परिणाम है की पूरा विश्व विज्ञान पर ही निर्भर हो गया है। हमें यह भी सूचना चाहिए की हमारे इस मॉडल का कम से कम दुष्परिणाम हो निश्चित रूप से आपका मॉडल बहुत ही बेहतरीन है। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि उपायुक्त उद्योग केंद्र ने कहा कि आज के बच्चे कल के भविष्य हैं इस तरह बच्चों के मॉडल के रूप में पहले के वैज्ञानिकों ने शोध घर छोटा मॉडल बनाया उसके बाद देश और विदेश की सरकारों ने उन मामलों का मूर्ति रूप देकर देश के लिए उदाहरण प्रस्तुत किया । कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि डीएसटीओ मनोज मिश्र ने कहा कि संघर्ष से हम कुछ भी हासिल कर सकते हैं। प्रधानाचार्य परिषद के संरक्षक डॉ मिथिलेश कुमार सिंह ने कहां की बच्चों में असीम ऊर्जा का भंडार है बच्चे चाहे तो कोई भी कार्य असंभव नहीं है । निश्चित रूप से इन्हीं बच्चों में से डॉ कलाम, कल्पना चावला जैसे वैज्ञानिक छुपे हुए इन्हें तराशने की जरूरत है। मॉडल प्रस्तुत करने वाले बच्चों में प्रथम स्थान अमन सिंह यादव द्वितीय स्थान पलक तिवारी अनीशा यादव, तृतीय स्थान माहिरा साक्षी विकास श्रेया, अनामिका आर्य। एवं विशेष सांत्वना पुरस्कार के लिए नम्रता शबे नूर , अच्छे प्रजापति शेखर गुप्ता को मिला। उक्त अवसर पर विज्ञान के संचालक अनिल त्रिपाठी जी प्रधानाचार्य परिषद के मंडलीय कार्यकारी अध्यक्ष देवेंद्र नाथ तिवारी, जीआईसी के उप प्रधानाचार्य महाश्रय शर्मा, गोविंद सिंह राम सुमेर पांडे, संदीप कुमार मल्ल, आदर्श सिंह, अभिमन्यु सिंह, अनूप गुप्ता, उग्रसेन शुक्ला, शत्रुघ्न तिवारी, उमा मिश्रा आदि विशेष रूप से मौजूद थे । विद्यालय के प्रधानाचार्य वकील सिंह ने आए हुए सभी अतिथि गण को माल्यार्पण कर अंग वस्त्र एवं स्मृति चिन्ह देकर स्वागत किया। कार्यक्रम के अंत में आए हुए अतिथि गण के प्रति आभार व्यक्त किया।

spot_img

Similar Articles

Advertismentspot_img

ताजा खबर