बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री ने की विकास निर्माण एवं कानून व्यवस्था की समीक्षा,आईटीआई के छात्रों को फोन/टैबलेट किया वितरित


देवरिया टाइम्स। बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार संदीप सिंह विकास भवन के गांधी सभागार में विकास निर्माण एवं कानून व्यवस्था की समीक्षा की तथा आईटीआई के 10 छात्रो को स्मार्ट फोन/टैबलेट प्रदान किया। इस दौरान उन्होने कहा कि सभी अधिकारी, कर्मचारी व जन प्रतिनिधि आपसी समन्वय के साथ कार्य करें। संचालित योजनाओं का लाभ जन-जन तक पहुॅचाने में अपनी अहम भूमिका निभायें।

उन्होने कहा कि जिस अधिकारी/कर्मचारी स्तर से विकास कार्य बाधित व उसमें अडचन आयेगा, तो उनके विरुद्ध सख्त से सख्त कार्यवाही करने में चूक नही होगी। बैठक में जिला प्रोबेशन अधिकारी के अनुपस्थित होने पर उनका आज का वेतन रोके जाने व स्पष्टीकरण तलब किये जाने की भी कार्यवाही की गयी।
राज्यमंत्री श्री सिंह ने कहा कि वर्तमान सरकार में अधिकारियों व कर्मचारियों के कार्य करने के लिए एक सुखद वातावरण विकसित हुआ है और हम सभी अपने पूरे रिसोर्स के साथ कार्य कर रहे है। आगे भी अपने-अपने जिम्मेदारियों व कार्यो को अपनी क्षमता से भी बढ कर उसे निभायें जिससे कि जनपद विकास की दिशा में और बेहतर व अग्रणी रहे। उन्होने कहा कि हम सभी को जनपद के विकास के लिए पूरी टीम भावना के साथ कार्य करना चाहिये, जिससे कि यह जनपद प्रदेश में एक मॉडल के रुप में स्थापित हो।


श्री सिंह समीक्षा के दौरान राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल कार्यक्रम के निर्माणाधीन कार्य परियोजनाओं को समय से पूरा किये जाने का निर्देश दिया। बताया गया कि 65 परियोजनायें है, जिसमें से 21 गतवर्ष पूर्ण कर लिये गये है, 44 मे से 04 भी इस वर्ष पूर्ण कर लिये गये है, शेष पर कार्य चल रहा है। हर घर नल योजना, गौ आश्रय स्थल की भी समीक्षा की, सीवीओ द्वारा बताया गया कि जनपद में 34 गौ आश्रय है, 16 स्थायी तथा 02 वृहद गौ आश्रय केन्द्र है। इन केन्द्रो में पशुओं के संरक्षण, चारा उपलब्धता के निर्देश दिये गये। गेहूॅ क्रय केन्द्र, खाद बीज की उपलब्धता, कृषि विज्ञान केन्द्र की भी समीक्षा कर आवश्यक निर्देश दिये गये। विद्युत आपूर्ति के जायजा के दौरान सदर सांसद डा रमापति राम त्रिपाठी ने कहा कि इस विभाग की जनप्रतिनिधियो व अधिकारियों की एक अलग बैठक करा कर इससे जुडे समस्याओं का समाधान कराया जाये। सडको के निर्माण कार्य के तहत अधिशासी अभियंता पीडब्लूडी द्वारा बताया गया कि जनपद और तहसील फोरलेन से जुडे हुए है। बेलडांर सडक की खराब स्थितिके संबंध में बताया गया कि टेंडर की प्रक्रिया में हैं। तकनीकी बिड प्राप्त होनी है। बरहज विधायक दीपक मिश्रा द्वारा करुअना करमटार सडक की खराब स्थिति एवं सदर विधायक शलभ मणि त्रिपाठी द्वारा भटवलिया से अवशेष फोरलेन के निर्माण की बात रखी गयी। उद्योग विभाग, खादी ग्राम उद्योग, समाज कल्याण, प्रोबेशन, स्वामित्व योजना, मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना, आइसीडीएस,दिव्यांग जन सशक्तिकरण विभाग आदि की प्रगति समीक्षा की गयी। दिव्यांग विभाग की संचालित योजनाओं के प्रति जागरुकता पर सदर विधायक शलभ मणि द्वारा बल दिया गया। रुद्रपुर विधायक जय प्रकाश निषाद द्वारा ऐसे पात्र दिव्यांजनो की सूची बनाये जाने एवं उसके अनुसार विधानसभावार वितरण कराये जाने को कहा गया। रामपुर कारखाना विधायक सुरेंद्र चौरसिया ने भी विद्युत से जुड़े समस्याओं को रखा।


समीक्षा में रोजगार मेला, प्रधानमंत्री श्रम मानधन योजना, मनरेगा, आयुष्मान भारत, आगनवाडी केन्द्र निर्माण, प्रधानमंत्री आवास शहरी एवं ग्रामीण, सामुदायिक शौचालय निर्माण, पीएम स्वनिधि योजना, वृक्षारोपण, स्कूल चलो अभिया, कायाकल्प, कर करेत्तर, यातायात प्रबंधन एवं 10 करोड से अधिक लागत की कार्य परियोजनाओं की समीक्षा कर सभी कार्य बिन्दुओं को लक्ष्यानुरुप पूर्ण किये जाने के निर्देश दिये। मनरेगा कनवर्जन से बनने वाले अमृत सरोवर के कार्यो को भी प्राथमिकता से कराये जाने के निर्देश दिये गये।
पुलिस अधीक्षक संकल्प शर्मा ने कानून व्यवस्था की प्रगतियों एवं इसके लिये अब तक किये गये कार्यो को पूर्ण विवरण रखते हुए कहा कि जनपद में कानून व्यवस्था बनाये रखने में कोई कोर कसर नही रखी जायेगी। बीपीओ(बीट पुलिस) सिस्टम को विकसित किया गया है।
मुख्य विकास अधिकारी रवींद्र कुमार ने सभी कार्य बिन्दुओं के प्रगतियो का विवरण रखा साथ ही मंत्री जी सहित जनप्रतिनिधियों को आश्वस्त करते हुए कहा कि जो निर्देश व सुझाव आये है उसे पूरी टीम भाव के साथ क्रिन्यान्वित कराया जायेगा।
बैठक में एडीएम प्रशासन कुंवर पंकज, वित्त एवं राजस्व नागेन्द्र सिंह, सीआरओ अमृत लाल बिन्द, एमएल सी प्रतिनिधि राजू मणि, भाजयूनो के जितेन्द्र प्रताप राव, जिला विकास अधिकारी श्रवण कुमार राय, सीमएमओ डा आलोक पाण्डेय, सीएमएस डा एएम वर्मा, डी एस टी ओ मनोज श्रीवास्तव, डीपीओ कृष्णकांत राय, बीएसए संतोष राय, अधिशासी अभियंता पीडब्ल्यूडी कमल किशोर सहित अन्य जिला स्तरीय अधिकारी आदि उपस्थित रहे।

spot_img

Similar Articles

Advertismentspot_img

ताजा खबर