प्रभारी मंत्री ने किया एमसीएच विंग एवं कोविड कन्ट्रोल रुम का निरीक्षण , एमसीएच विंग में स्थापित पारदर्शी व्यवस्था की उन्होने की सराहना


देवरिया टाइम्स

राज्यमंत्री(स्वतंत्र प्रभार), उद्यान, कृषि विपणन, कृषि निर्यात एवं जनपद के प्रभारी मंत्री श्रीराम चौहान आज जनपद भ्रमण कार्यक्रम के दौरान जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन, पुलिस अधीक्षक डा श्रीपति मिश्र एवं सदर विधायक डा सत्य प्रकाश मणि त्रिपाठी के साथ एमसीएच विंग एवं एकीकृत कोविड कमाण्ड सेन्टर का निरीक्षण किया। तदोपरान्त विकास भवन के गांधी सभागार में अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक कर आवश्यक निर्देश दिये। उन्होने होम आइसोलेशन मरीजों को दवा किट के साथ आयुष किट भी प्रदान किये जाने का निर्देश दिया।


प्रभारी मंत्री श्री चौहान एमसीएच विंग के निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी द्वारा बनायी गयी अनूठी एवं पारदर्शी व्यवस्था की उन्होने सराहना की। इस दौरान उन्होने एलईडी डिस्प्ले के सामने मौजूद तामीरदारो से बातचीत कर मरीजों के इलाज आदि का फीडबैक भी लिया। ग्राउण्ड फ्लोर में अवस्थित कन्ट्रोल सिस्टम में पहुॅचकर सीसीटीवी कैमरा के माध्यम से मरीजों से वार्ता कर उनके स्वास्थ्य आदि की जानकारी किये। व्यवस्थाओं के संबंध में पूछताछ भी किये। डाक्टरों के चैम्बर एवं एमसीएच विंग दवा स्टोर का भी जायजा लिया। इस अस्पताल में आक्सीजन आपूर्ति हेतु स्थापित किये जाने के लिये आक्सीजन उपकरणो को भी देखा। मंत्री श्री चैहान ने सभी चिकित्सकों को मरीजों के इलाज आदि समुचित रुप से किये जाने का निर्देश दिया। उन्होने कहा कि मरीजो के इलाज हेतु संसाधनो की कोई कमी नही होने दी जायेगी। उन्होने साफ-सफाई, सैनिटाइजेशन आदि कार्यो को भी नियमित रुप से कराये जाने का निर्देश दिया।


प्रभारी मंत्री श्री चौहान इसके उपरान्त कलेक्ट्रेट स्थिति एकीकृत कोविड कन्ट्रोल सेन्टर का भी निरीक्षण किया। शिकायती पंजिका का अवलोकन किया। उन्होने एक-एक बिन्दुओं का फीडबैंक लेने के साथ ही निर्देश दिया कि मरीजो से दिन में कम से कम दो बार उनसे टेलीफोन पर बातचीत कर उनके स्वास्थ्य एवं आवश्यकताओं की जानकारी की जाये एवं उसका समाधान भी किया जाये। उन्होने यह भी कहा कि कन्ट्रोल रुम में आने वाले हर एक समस्या अपने आप में महत्वपूर्ण होती है, उसका त्वरित रुप से संज्ञान लेना आवश्यक होता है। इसलिये जो भी समस्यायें आये, उस पर फौरी रुप से कार्यवाही करते हुए उसका समाधान अवश्य ही सुनिश्चित कराये। इस दौरान जिलाधिकारी द्वारा कन्ट्रोल रुम में की गयी एक-एक व्यवस्थाओं की विस्तृत जानकारी दी गयी।


राज्य मंत्री श्री चौहान ने विकास भवन के गांधी सभागार में कोविड एवं खाद्य सुरक्षा, गेहूॅ क्रय, श्रमिक पंजीयन आदि कार्यो के गहन समीक्षा किये। उन्होने निर्देश दिया कि कोविड के दृष्टिगत शासन द्वारा जो भी योजनाये व राहत सामग्री प्राविधानित किये गये है, उसका सही रुप से क्रियान्वित करते हुए सभी पात्रो तक इसका लाभ पुहॅचाये, इसमें किसी प्रकार की कोई कोताही न हो, यह सुनिश्चित किया जाये।
समीक्षा में यह पाया गया कि कोविड-19 से कुल 18978 लोग पॉजिटिव पाये गये। जिसमें 16161 लोग स्वस्थ हुए। 168 लोगों की मृत्यु हुई है। वर्तमान में कुल 2649 लोग कोरोना पॉजिटिव है, जिसमें 2340 व्यक्ति होम आइसोलेशन में है। जनपद में कोविड सैम्पलिंग के लिए 1200 एण्टीजन प्रतिदिन तथा 1800 आर०टी०पी०सी०आर०) टेस्ट प्रतिदिन का लक्ष्य निधारित किया गया है, जिसमें प्रतिदिन लक्ष्य के सापेक्ष सैम्पलिंग की प्रगति उत्तम है। विगत सप्ताह औसत 2045 एण्टीजन प्रतिदिन तथा 1689 आर०टी०पी०सी०आर० सैम्पलिंग प्रतिदिन की गयी। दिनांक 11.05.2018 से 18.05.2021 तक कुल 16995 एण्टीजन टेस्ट, 14153 आर०टी०पी०सी०आर० तथा 277 ट्रू नाट टेस्ट मिलाकर कुल 31480 टेस्ट किये गये।सभी विकास खण्डों में अप्रैल माह में कुल 119645 सैम्पल तथा मई माह में 65752 लोगों की सैम्पलिंग की गई। 01 मई से 19 तक कुल विभिन्न विकास खण्डों में कुल 33588 एण्टीजन टेस्ट किये गये जिसमें 1257 लोग कोविंड पॉजिटिव पाये गये। इसी प्रकार 43957 आर०टी०पी०सी०आर० टेस्ट किये गये, जिसमें 5891 लोग पॉजिटिव पाये गये।

कोविड-19 के दृष्टिगत सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अन्तर्गत दो चरणों में खद्यान्न का वितरण लाभार्थियों में किया जायेगा। प्रथम चरण में राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना (एन०एफ०एस०ए०)/नियमित आवण्टन’ के अन्तर्गत दो प्रकार के राशन कार्ड प्रचलित हैं। अन्त्योदय योजना के राशन कार्ड एवं पात्र गृहस्थी योजना के राशन कार्ड अन्त्योदय योजना के अन्तर्गत कुल 105680 तथा पात्र गृहस्थी योजना के अन्तर्गत कुल 463095 राशन कार्ड अर्थात कुल 568775 राशन कार्ड / परिवार प्रचलित हैं। योजना के अन्तर्गत उठान किये गये खाद्यान्न का वितरण 05 मई से 17 मई के मध्य निर्धारित था, जिसका वितरण किया जा चुका है। अन्त्योदय योजना के राशन कार्डों पर 20 कि0ग्रा0 तथा 15 कि०ग्रा० चावल अर्थात कुल 35 कि०ग्रा० खाद्यान्न का वितरण प्रति कार्ड / परिवार किया जाता है। इसी प्रकार पात्र गृहस्थी योजना के राशन कार्डों पर प्रति यूनिट (व्यक्ति) 03 कि0ग्रा0 गेहूँ तथा दो कि०ग्रा० चावल अर्थात कुल 05 कि०ग्रा० खाद्यान्न वितरण किया जाता है। दोनों योजनाओं के तहत गेहूँ का वितरण मूल्य दो रुपये प्रति कि०ग्रा० तथा चावल का वितरण मूल्य 03 रुपये प्रति कि०ग्रा० निर्धारित है।


’द्वितीय चरण में ’प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना (पी०एम०जी०के०वाई०) / अतिरिक्त आवण्टन निःशुल्क’ योजना के अन्तर्गत माह मई 2021 हेतु आवण्टित खाद्यान्न का निःशुल्क वितरण 31 मई तक निर्धारित है जिसके सापेक्ष वितरण किया जा रहा है। अन्त्योदय एवं पात्र गृहस्थी दोनों योजनाओं के राशन कार्डों में सम्मिलित यूनिट (व्यक्ति) पर प्रति यूनिट 03 कि०ग्रा० तथा 02 कि०ग्रा० चावल अर्थात कुल 05 कि०ग्रा० खाद्यान्न का निःशुल्क वितरण किया जा रहा है। जनपद में अन्त्योदय योजना के राशन कार्डो में 373871 तथा पात्र गृहस्थी के राशन कार्डो में कुल 2022218 अर्थात कुल 2396089 यूनिट (व्यक्ति) आच्छादित है, जिन्हें प्रति व्यक्ति 05 कि०ग्रा० खाद्यान्न निःशुल्क वितरण किया जा रहा है।
कोविड के उत्पन्न परिस्थितियों के दृष्टिगत उ०प्र० भवन एवं अन्य सन्निर्माण कल्याण बोर्ड द्वारा श्रमिकों के हित में श्रमिक पंजीयन हेतु वर्तमान वित्तीय वर्ष 2020-21 में लेबर अड्डों, ब्लाकों, ईंट भट्ठों आदि पर कैम्प लगाकर श्रमिकों को पंजीकरण कराने हेतु जागरुक किया गया। कुल 37970 श्रमिकों को पंजीकृत किया गया है तथा 13017 श्रमिकों का नवीनीकरण किया गया है तथा अब तक कुल 105920 श्रमिकों का पंजीकरण किया गया है, जिन्हें कोविड 19 के दृष्टिगत आपदा सहायता योजना के अन्तर्गत 1000 रुपये प्रतिमाह हित लाभ दिये जाने की तैयारी की जा रही है। ऐसे मनरेगा श्रमिक जो विगत 01 वर्ष में 90 दिन मजदूरी कार्य कर चुके हैं, जिनका पंजीकरण श्रम विभाग में नहीं हुआ हैं, उनको पंजीकरण किया जाने हेतु ब्लाक स्तर पर रोजगार सेवक के माध्यम से पंजीयन कराने हेतु अभियान चलाकर निर्देशित किया गया है। उन श्रमिकों को भी पंजीयन के पश्चात आपदा हित लाभ दिया जायेगा। वर्तमान वित्तीय वर्ष 2020-21 में जनपद में कुल 32898 श्रमिकों को बोर्ड द्वारा संचालित योजनाओं से लाभान्वित किया गया है। अवशेष श्रमिकों का लाभान्वित करने की कार्यवाही की जा रही है।


गेहूॅ क्रय की समीक्षा में यह पाया गया कि जनपद में गेहूं खरीद के लिए माह मई में अब तक खाद्य एवं रसद विभाग के विपणन शाखा भारतीय खाद्य निगम (एफ०सी०आई०), उत्तर प्रदेश सहकारी संघ, कोआपरेटिव यूनियन उपभोक्ता सहकारी संघ तथा कृषि उत्पादन मंडी परिषद के विभिन्न केन्द्रों को मिलाकर कुल 9101 किसानों से 51351.22 मीट्रिक टन गेहूं खरीद की गई तथा 1437 मूवमेंट चालान जारी हुए।
प्रभारी मंत्री ने कोविड -19 से उत्पन्न परिस्थितियों के कारण गरीबो एवं जरुरमंदों को तत्काल राहत पहुॅचाने के लिये सभी राशन कार्ड धारकों को 3 माह का राशन निःशुल्क उपल्बध कराये जाने, पंजीकृत श्रमिकों, अन्य श्रमिकों, सभी पटरी, रेहडी दुकानदारों, रिक्शा, ई- रिक्शा चालकों, नाविकों, कुली, पल्लेदारों, धोबी, मोची, हलवाई आदि रोज कमा कर खाने वालो को धनराशि रुपये 1000 रुपये प्रति परिवार एक माह के लिये दिये जाने शासन के निर्णय अनुसार सभी पात्रो का चयन करते हुए तत्कालिक रुप से अनुमन्य धनराशि उपलब्ध कराये जाने का निर्देश उन्होने दिया है। उन्होने यह भी कहा है कि कोई भी पात्र न छूटे यह विशेष रुप से ध्यान रखा जाये।
इस दौरान मंत्री श्री चौहान ने कहा कि एमसीएच विंग में बनायी गयी पारदर्शी व्यवस्था को अच्छा एवं अनूठा प्रयोग देवरिया में हुआ है। उन्होने कहा कि आक्सीजन की किल्लत दूर करने के लिये जिलाधिकारी ने लोगो को प्रेरित किया, परिणामस्वरुप आक्सीजन प्लान्ट लगाने का कार्य प्रस्तावित है। एमसीएच विंग में आक्सीजन के उपकरण/मशीन रखा हुआ है। शीघ्र ही स्थापना का कार्य शुरु होगा और लोगो को इस प्लान्ट के माध्यम से आक्सीजन की आपूर्ति शुरु होगी। उन्होने पुलिस चिकित्सालय के उपयोगार्थ आक्सीजन कन्सन्ट्रेटर इस हास्पिटल के चिकित्सक को प्रदान किया।
जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन ने कोविड प्रबंधन से लेकर कोविड -19 के उत्पन्न परिस्थितियों के दृष्टिगत जरुरतमंदो तक राहत व अनुमन्य धनराशि उपलब्ध कराये जाने की विस्तृत रुप रेखा प्रस्तुत की। उन्होने मंत्री जी को आशवस्त किया कि जो भी सुझाव व निर्देश बैठक में दिये गये उसका अक्षरशः पालन कराया जायेगा।
इस दौरान मुख्य विकास अधिकारी शिव शरणप्पा जी एन, भाजपा जिलाध्यक्ष अन्तर्यामी सिंह, एडीएम एफआर उमेश कुमार मंगला, एडीएम प्रशासन कुवर पंकज, सीएमओ डा आलोक पाण्डेय, सीएमएस ए एम वर्मा, एसडीएम रुद्रपुर संजीव उपाध्याय, सलेमपुर ओम प्रकाश, बरहज संजीव यादव, क्षेत्राधिकारी सदर श्रीयश त्रिपाठी, अम्बिका राम, डीएसओ विनय कुमार सिंह, डिप्टी आर एम ओ जितेन्द्र यादव सहित अन्य संबंधित अधिकारी गण आदि उपस्थित रहे।

spot_img

Similar Articles

Advertismentspot_img

ताजा खबर