मईल : सरयू नदी में डूबने से भतीजे और चाचा की मौत ,बुझ गया घर का एकलौता चिराग

विज्ञापन

देवरिया टाइम्स

जिले के मईल थानाक्षेत्र के देवरहा बाबा आश्रम के समीप सरयू नदी में डूबने से बुधवार को चाचा व भतीजे की मौत हो गई। मौत की सूचना मिलते ही परिवार में कोहराम मच गया। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

 
मईल गांव निवासी स्व. रामचंद्र यादव के पुत्र विकास यादव (32) अपने भाई सचिन यादव के बेटे आदित्य यादव (3) को लेकर गोबर की खाद देवरहा बाबा आश्रम के समीप खेत मे डालने गए थे। उसी समय बिन बताए हाथ में लगा गोबर धोने भतीजा आदित्य सरयू नदी के पास चला गया। हाथ धोते समय नदी में फिसल कर पानी में डूबने लगा। यह देख खेत में खाद डाल रहे विकास दौड़ कर नदी मे घुस कर निकालने का प्रयास करने लगा। उसी दौरान पानी में वह भी डूबने लगा।


इस दौरान आस पास के खेत में काम कर रहे लोगों ने शोर मचाते हुए दोनों को निकालने का प्रयास करने लगे। काफी मशक्कत के बाद दोनों को बाहर निकाल कर भागलपुर पीएचसी पहुंचाया। जहां डॉक्टर ने दोनों को मृत घोषित कर दिया। परिजन उनका शव लेकर घर आए। सूचना पर पहुंचे एसआई आनंद शंकर सिंह ने शव को कब्जे मे लेकर पोस्टमार्टम के लिए देवरिया भेज दिया।

घर का बुझ गया एकलौता चिराग
आदित्य अपने माता पिता का एकलौता बेटा था। उसके पिता सचिन विदेश रहते हैं। कुछ ही सप्ताह पहले अपने बेटे का जन्मदिन धुमधाम से मनाया था। आदित्य के डूबने की खबर मिलते ही पिता सचिन और माता रिंकू देवी रोते रोते बदहवास हो जा रहे थे। आदित्य अपने चाचा विकास यादव का दुलारा था। वह जहां भी जाते थे अपने साथ लेकर जाते थे। विकास का बड़ा भाई बबलू और छोटा भाई अभिषेक अपने भाई और भतीजे का शव देखकर फूट फूट कर रो रहे थे। वहीं विकास की मां इन्द्रावती देवी का रोना देख आस पास के लोगों का कलेजा फट रहा था। गांव के लोगों का कहना था कि विकास होनहार लड़का था। उसकी शादी अभी नहीं हुई थी।

विज्ञापन

Multiple Slideshows

विज्ञापन:

विज्ञापन:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here