मुख्य निर्वाचन अधिकारी द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से मतदेय स्थलों के संभाजन, मतदाता सूची एकीकरण व मतदाता सूची के सन्दर्भ में की गई बैठक


देवरिया टाइम्स। मुख्य निर्वाचन अधिकारी अजय कुमार शुक्ला द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से मतदेय स्थलों के संभाजन, मतदाता सूची एकीकरण व मतदाता सूची के सन्दर्भ में बैठक की गयी।


बैठक में मुख्य निर्वाचन अधिकारी द्वारा मतदेय स्थलों का संभाजन 1500 मतदाताओं के आधार पर करने का निर्देश दिया गया। मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने पोलिंग स्टेशन निर्धारित करने की प्रक्रिया व शर्तों के बारे में भी निर्देश दिया और कहा कि 500 से कम मतदाता वाले मतदेय स्थलों का भौतिक सत्यापन व तार्किक विश्लेषण करते हुए उन्हें अन्य मतदेय स्थलों में विलय करने की संभावनाओं को देख लिया जाए। पोलिंग स्टेशनों के रेशनलाइजेशन में चुनाव आयोग के निर्देशों के अनुपालन को सुनिश्चित करने के लिए भी मुख्य निर्वाचन अधिकारी द्वारा निर्देशित किया गया। उन्होंने निर्देश दिया कि मतदेय स्थलों के संभाजन व विलय के दौरान चुनाव आयोग के निर्देशों का शत-प्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित किया जाए।
मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने गरुड़ ऐप, एनवीएसपी व वोटर हेल्पलाइन पोर्टल को अधिक से अधिक लोकप्रिय बनाने का प्रयास सभी जनपद को करने के लिए भी कहा।


एनआईसी देवरिया में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आयोजित बैठक के बाद जिलाधिकारी जितेंद्र प्रताप सिंह ने निर्देशित करते हुए कहा कि यह समय चुनाव संबंधी तैयारियों के लिए सबसे उपयुक्त है। इसलिए सभी संबंधित अधिकारी चुनाव आयोग के निर्देशानुसार निष्पक्ष चुनाव हेतु सभी तैयारियों को पूर्ण कर लें। उन्होंने कहा कि पोलिंग स्टेशनों का निर्धारण और निर्वाचक नामावली के पुनरीक्षण संबंधी कार्यों को चुनाव आयोग के मानकों का पालन करते हुए ससमय पूरा करने के लिए अभी से काम करना शुरू कर दें। उन्होंने आधार नंबर के वोटर कार्ड लिंकिंग के संदर्भ में 07 तारीख को चलाये जाने वाले अभियान को सफलतापूर्वक संचालित करने हेतु भी निर्देशित किया।


बैठक में अपर जिलाधिकारी प्रशासन कुंवर पंकज, ज्वाइंट मजिस्ट्रेट/एसडीएम सलेमपुर गुंजन द्विवेदी, उपजिलाधिकारी सदर सौरभ सिंह, उपजिलाधिकारी रुद्रपुर संजीव उपाध्याय, एसडीएम बरहज सहित अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

spot_img

Similar Articles

Advertismentspot_img

ताजा खबर