किशोर पुलिस इकाई की मासिक समीक्षा बैठक संपन्न

विज्ञापन
savitri
Caption Two
3 / 3
maneesh

देवरिया टाइम्स

पुलिस लाइन मनोरंजन सभागार में विशेष किशोर पुलिस इकाई (एस.जे.पी.यू.) की मासिक समीक्षा बैठक किया गया जिसमें मुख्य अतिथि मा. सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण न्यायाधीश श्री शिवेन्द्र कुमार मिश्रा, एवं अपर पुलिस अधीक्षक महोदय उपस्थित रहे । कार्यक्रम का संचालन संरक्षण अधिकारी श्री जयप्रकाश तिवारी द्वारा किया गया । इस बैठक में जनपद से समस्त थानों में नामित बाल कल्याण अधिकारी, उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी, सहायक अधीक्षक राजकीय बाल गृह (बालक), समन्वयक चाइल्ड लाइन, जिला बाल संरक्षण इकाई के कार्मिक, श्रम विभाग के कार्मिक, सचिव श्याम सुन्दर वेलफेयर सोसाइटी श्री अखिलेश त्रिपाठी एवं अन्य अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित हुये ।

बैठक का मुख्य उद्देश्य जनपद में किशोर न्याय बालकों की देख-रेख संरक्षण अधिनियम 2015 के अन्तर्गत बाल संरक्षण सेवाये (सी.पी.एस. योजना ) ग्राम एवं ब्लाक स्तर की बाल संरक्षण समितियों, देख-रेख संरक्षण एवं विधि का उल्लंघन करने वाले बालकों के सर्वोत्तम हितों को ध्यान में रखते हुये किया गया । बैठक के प्रारम्भ में अपर पुलिस अधीक्षक/ नोडल विशेष किशोर पुलिस इकाई के द्वारा किशोर न्याय अधिनियम के प्रारम्भ से लेकर वर्तमान तक हुये बदलाल के बारे में एवं विशेष किशोर पुलिस इकाई के कर्तव्य एवं दायित्वों के बारे में विधिवत रुप से बताया गया । सभी थानों को निर्देश दिये गये कि प्रत्येक माह के द्वितीय शुक्रवार को होने वाली बैठकों में प्रत्येक थाने से सभी को प्रतिभाग करना आवश्यक होगा । मा. सचिव, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा उपस्थित समस्त को आपस में समन्वय बनाकर समस्त स्टेक होल्डर्स बच्चों के हित में विधिक रुप से कार्य करें तथा साथ ही प्रत्येक थाने से विशेष किशोर पुलिस इकाई को उपस्थित मासिक समीक्षा बैठक में उपस्थित रहने के निर्देश दिये गये । विधि का उल्लंघन करने वाले बालकों को किशोर न्याय बोर्ड एवं देख-रेख संरक्षण वाले बच्चों को बाल कल्याण समिति के समक्ष प्रस्तुत करें । बच्चों का हित ही सर्वोपरि है । मण्डल समन्वयक यूनीसेफ श्री नीरज शर्मा के द्वारा बच्चों को बाल कल्याण समिति एवं किशोर न्याय बोर्ड के समक्ष प्रस्तुत करते समय जे.जे. एक्ट के प्रारुप पर ही प्रस्तुत करने की बात कही गयी तथा इसके साथ ही पाक्सो कानून के बारे में जानकारी दी गयी । उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. संजय चंद के द्वारा बच्चों के उम्र परीक्षण एवं स्वास्थ परीक्षण के लिये कभी-भी हमसे सम्पर्क कर बच्चों के हित में कार्य किया जाय ।

डा. शाहब ने अपना सम्पर्क सूत्र भी उपस्थित समस्त स्टेक हेल्डर्स को उपलब्ध कराया गया । संरक्षण अधिकारी श्री जय प्रकाश तिवारी द्वारा बताया गया कि अगली बैठक में सभी थाने थानों में दर्ज गुमशुदगी रिपोर्ट को लेकर आयेंगे एवं जनपद को बाल विवाह मुक्त बनाने के लिए सभी को आपसी सामंजस्य बनाकर कार्य किये जाने हेतु कहा गया । विशेष कर गोद देने की प्रक्रिया एडाप्शन को लेकर बताया गया कि किसी भी परिस्थिति अथवा किसी के दवाब में थानों के द्वारा किसी भी व्यक्ति को गोद नहीं दिया जाय । गोद देने के लिये कारा की वेबसाइट पर पंजीयन कराकर ही गोद लेने की विधिक क्रिया अपनाये । अंत में श्री तिवारी द्वारा उपस्थित समस्त का धन्यवाद ज्ञापन किया गया ।

विज्ञापन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here