जिले में अंतिम चरण में चुनाव ,छह हजार बच्चों ने मिलकर बनाई मानव श्रृंखला

विज्ञापन

इस बार चुनाव आयोग ने मत प्रतिशत बढाने के लिए तरह-तरह के जागरूकता अभियान चलाया है जिसमे जिले में सभी संस्थानों में स्वीप कार्यक्रम कर मतदाता जागरूकता अभियान चलाया गया है जिसके अगले और अंतिम रूप में मंगलवार को स्कूली बच्चों ने जिला स्टेडियम में मानव शृंखला बनाई। स्वीप जागरूकता कार्यक्रम के लोगों के माध्यम से मताधिकार के प्रति जागरूक किया गया। कार्यक्रम में विभिन्न विद्यालयों के छह हजार से अधिक बच्चों, शिक्षकों व आम लोगों ने हिस्सा लिया। इस दौरान बच्चों ने विविध सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति भी दी। प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी एल. वेंकटेश्वर लू ने मानव शृंखला का अवलोकन किया। जिला प्रशासन के प्रयासों को सराहते हुए मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि अब तक जो मतदाता अपने मताधिकार से वंचित रहे हैं, उसका कारण पता करना होगा, तभी हम अपने मिशन में सफल होंगे और अधिक से अधिक मतदाताओं से उनके मताधिकार का प्रयोग करा सकेंगे। उन्होंने कहा कि स्वतंत्रता प्राप्ति के इतने वर्षों के बाद भी हम सभी को यह नहीं बता पाए हैं कि लोकतंत्र का महत्व क्या है और ये कैसे मजबूत होगा। इसी का परिणाम है कि 35 या 40 प्रतिशत मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करने में रुचि नहीं लेते। हमे यह देखना होगा कि ऐसे क्षेत्र जहां लोगों में मतदान के प्रति रुचि नहीं है, अन्यथा उन्हें किसी के द्वारा लोभ-लालच या डरा-धमका कर मताधिकार के प्रयोग से वंचित रखा जाता है, उन क्षेत्रों में स्वीप कार्यक्रम को और गतिशील व प्रभावी बनाने की जरूरत है। उन्होंने स्टेडियम में आयोजित मानव शृंखला में उपस्थित जन समूह से अपेक्षा की कि वे अपने आस पड़ोस के वह मतदाता खोजें, जो मताधिकार का प्रयोग नहीं किया जाता। उन्हें इसके लिए विस्तारपूर्वक बताएं, जिससे वे अपने मताधिकार का प्रयोग आगामी 19 मई को करने के लिए तैयार हो सकें। इस मौकेे पर डीएम अमित किशोर, सीडीओ शिव शरणप्पा जीएन, एडीएम राकेश पटेल, डीआईओएस शिवचंद राम, बीएसए ओमप्रकाश यादव, जीआईसी के प्रधानाचार्य पीके शर्मा आदि मौजूद रहे।

विज्ञापन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here