परिवार विहीन बच्चों के देख-रेख व संरक्षण के लिये टोलफ्री नम्बर 1098 अथवा 181 पर करें सम्पर्क


देवरिया टाइम्स

जिला परिवीक्षा अधिकारी प्रभात कुमार ने बताया है कि कोविड महामारी के दौरान परित्यक्त परिवार से बिछुडे या किसी भी प्रकार से परिवार विहीन या कोविंड 19 एवं अन्य बीमारियों से अनाथ हुए देखरेख व संरक्षण की स्थिति में आने वाले बालक/बालिकाओं जिनकी उम्र 18 वर्ष से कम है। ऐसे बालक/बालिकाएं जिनके माता-पिता की मृत्यु हो जाने की दशा में यदि कोई भी व्यक्ति अवैध रूप से बच्चों को गोद लेने/देने या महिलाओं की तस्करी संबंधी कार्य कर रहा है। ऐसे बालक/बालिकाएं, जिनके माता-पिता अस्पताल में हो और उनको भोजन देने वाला कोई नहीं है, परिवार के मुखिया की मृत्यु पर राशन, चिकित्सा आदि का सहयोग आश्रय तथा सामाजिक सुरक्षा योजनाओं से जोड़ने की आवश्यकता है। इनमें से किसी भी प्रकार की समस्या है तो भारत सरकार द्वारा जारी चाइल्ड लाइन टोल फ्री नं 1098 अथवा 181 पर इसकी सूचना दें, ताकि ऐसे प्रकरणों में त्वरित कार्यवाही की जा सके।

spot_img

Similar Articles

Advertismentspot_img

ताजा खबर