बैतालपुर डिपो में लगी आग , ड्राइवर और खलासी झुलसे

विज्ञापन
savitri
Caption Two
3 / 3
maneesh

देवरिया टाइम्स

देवरिया के बैतालपुर स्थित इंडियन ऑयल डिपो के टैंकर के चेंबर में अचानक आग लग गई। इस आग में ड्राइवर और खलासी झुलस गए। ड्राइवर का नाम जयप्रकाश और खलासी का वशिष्‍ठ दुबे बताया जा रहा है। फायर ब्र‍िगेड और डिपो के कर्मचारियों ने किसी तरह आग पर काबू पा लिया है।

मिली जानकारी के अनुसार बैतालपुर डिपो के इंडियन ऑयल कारपोरेशन में बुधवार सुबह शहर के पार्वती फीलिंग स्टेशन का टैंकर डीजल-पेट्रोल लेने पहुंचा था। सुबह साढ़े नौ बजे के करीब टैंकर न. यूपी 52 एफ 5657 में डीजल-पेट्रोल की रीफिलिंग के बाद ई लाकिंग के दौरान केबिन में आग लग गई। डिपो के अन्दर टैंकर में आग पकड़ने की सूचना मिलते ही अफरा-तफरी मच गई। फायर बिग्रेड की गाड़ियां डिपो की तरफ दौड़ पड़ीं। डिपो के अंदर खड़े टैंकरों को बाहर किया जाने लगा। सुरक्षा और आपदा के लिए तैनात अधिकारी अलर्ट हो गए। करीब आधे घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पा लिया गया। तब जाकर कर्मचारियों ने राहत की सांस लिया गोरखपुर-देवरिया मार्ग पर आ रहे वाहन उल्टी दिशा की ओर भागने लगे। थोड़ी देर के लिए डिपो में अफरातफरी मच गई। कर्मचारी हैरान-परेशान इधर-उधर दौड़ते-भागते नज़र आए। आग की सूचना पर बड़ी संख्‍या में लोगों की भीड़ मौके पर जुट गई थी। इस दौरान भीड़ को काबू में लाने के लिए पुलिस को काफी मशक्‍कत करनी पड़ी।

आसपास के स्‍कूलों को करा दिया गया बंद
बैतालपुर डिपो के टैंकर में आग को लेकर प्रशासन ने एहतियात बरतते हुए आसपास के स्‍कूलों को तत्‍काल बंद कराकर बच्‍चों को घर भेज दिया था। गनीमत रही कि आग पर तत्‍काल काबू पा लिया गया और यह कहीं फैलने नहीं पाई।
डॉक्‍टरों को किया गया अलर्ट
बैतालपुर डिपो से आग की सूचना आई तो प्रशासन ने तुरंत जिला अस्‍पताल को अलर्ट कर दिया। जिला अस्‍पताल का इमरजेंसी कक्ष तत्‍काल खाली करा दिया गया। इमरजेंसी में भर्ती सभी मरीजों को वार्ड में भेज दिया गया। दरअसल, शुरू में यह पता नहीं था कि आग किस स्‍तर की है। किसी बड़ी घटना की आशंका के मद्देनज़र डॉक्‍टरों की टीम ने भी मोर्चा संभाल लिया। जिला अस्‍पताल के वार्ड ब्‍वाय और अन्‍य कर्मचारियेां को भी ड्यूटी पर बुला लिया गया।
पहले भी हो चुके है हादसे
इंडियन ऑयल के डिपो परिसर में इससे पहले भी 2004 में आग लगने की घटना हो चुकी है। इसमें सुरेश गुप्ता कर्मचारी गंभीर रूप से झुलस गए थे। दिल्ली में इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई थी। सुबह की घटना को लेकर लोगों के जेहन में पुरानी घटना की याद ताजी हो गई।
अग्निशमन अधिकारी शंकर शरण राय ने बताया कि आग लगने की सूचना पर पहुंचे थे। आग पर काबू पा लिया गया है।

विज्ञापन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here