साढ़े चार साल बाद भी अध्यक्ष और ईओ पर कार्यवाही नहीं



देवरिया टाइम्स।
✍️देवरिया वित्तीय अनियमितता तथा शासनादेश का उल्लंघन का ₹87लाख के सामानों की खरीद के मामले में साढे 4 साल बाद भी बरियारपुर नगर पंचायत अध्यक्ष और ईओ पर कार्यवाही नहीं की गई

👉दोनों लोगो पर कार्यवाही करने को जिलाधिकारी की भेजी रिपोर्ट को नगर विकास विभाग ने दबा दिया है-!

✍️जबकि नगर पंचायत के कार्यकाल समाप्त होने में कुछ माह बचा हुआ है रामपुर कारखाना ब्लॉक के सबसे बड़े पंचायत बरियारपुर को वर्ष 2017 में नगर पंचायत बनाया गया शासन द्वारा इसके गठन की अधिसूचना जारी करने के बाद नवसृजित नगर पंचायत के विकास के लिए राज्य वित्त आयोग से धनराशि उपलब्ध कराई गई 1 सितंबर 2017 से शासन से प्रदेश के सभी विभागों में ई टेंडरिंग प्रणाली लागू कर दी गई।लेकिन नगर पंचायत द्वारा बिना ई टेंडरिंग की 8751470 रुपए का सफाई सामग्री एलईडी लाइट हाइड्रोलिक टेंपो पानी का टैंक मशीन उत्तर प्रदेश लघु उद्योग निगम लिमिटेड मुरादाबाद से खरीदा गया था-!

नगर पंचायत की बोर्ड की पहली बैठक में खरीद का प्रस्ताव पारित कर सामग्री की खरीद व भुगतान की प्रक्रिया शुरू हो गई।बैठक के अगले दिन ही 13 दिसंबर 2017 को अधिक और अधिशासी अधिकारी के संयुक्त हस्ताक्षर से चेक संख्या 272703 व 27 2704 द्वारा
क्रमशः 4522350 और 4229120 रुपए कुल 8751470 रुपए का भुगतान कर दिया गया जांच में शासन के निर्देश के बाद भी सामग्रियों की खरीदी निविदा तथा सफाई सामग्री की खरीद जेम पोर्टल से नहीं खरीदने के मामले में अध्यक्ष अमरावती देवी ऑडियो शासनादेशों के उल्लंघन और वित्तीय अनियमितता करने के दोषी पाए गए दोनों के खिलाफ अनुशासनिक कार्रवाई करने की तत्काल जिलाधिकारी सुजीत कुमार ने 22 मार्च 2018 को प्रमुख सचिव उत्तर प्रदेश शासन नगर विकास अनुभाग 4 को रिपोर्ट भेज दिया लेकिन 7:30 बजे अध्यक्ष और ऊपर कार्यवाही कर मामले को दबा दिया गया

spot_img

Similar Articles

Advertismentspot_img

ताजा खबर