भूकंप आधारित मेगा माॅकड्रिल का सेन्ट्रल एकाडेमी में हुआ आयोजन

विज्ञापन

देवरिया टाइम्स

सेन्ट्रल एकाडेमी में एन0डी0आर0एफ0 की टीम द्वारा भूकंप पर आधारित मेगा माॅकड्रिल ‘‘सकुशलम’’ का आयोजन किया गया, जिसमें आकस्मिक तौर पर होने वाली घटना से निपटने के संबंध में रिहर्सल करते हुए दिखाया गया कि यदि अचानक भूकंप आने पर कैसे उससे बचा जा सकता। बडी-बडी इमारतों में घिरे लोगो को कैसे निकाला जाता है और घायलो का आकस्मिक चिकित्सा सुविधा उपलब्ध करायी जाती है तथा अग्निशमन के वाहन और फायर सिलेन्डर के माध्यम से आग पर कैसे काबू पाया जाता है।


इस दौरान जिलाधिकारी श्री किशोर ने कहा कि यह एक अभ्यास का कार्यक्रम है जो लोगो को जागरुक करने के लिये है तथा उनके दायित्वों से अवगत कराने के लिए है। हादसा कभी भी घट सकती है। छोटी छोटी बातो पर ध्यान देना चाहिए। हमारी तैयारियां ही आपात स्थिति में काम आती है। उन्होने कहा कि इस तरह के कार्यक्रमो से आकस्मिकता की स्थिति मे लोगो को सुरक्षित बचाया जा सकता है, यह दिखाया गया है। उन्होने कहा कि जैसे भूकंप के बारे में दिखाया गया है, अगर कोई भी व्यक्ति, बच्चा या महिला जिसको लगे कि भूकंप आया है, जहां कही भी वे हों, वे अपने सिर पे बैंग आदि चीजे रखकर सकुशल बाहर निकल सकते है, क्योकि भवन क्षतिग्रस्त होता है तो ईट्ट या पत्थर से चोट लगने की संभावनाये बनी रहती है।
जिलाधिकारी ने कहा कि सिलेन्डर में आग लगने पर कैसे काबू पाया जाता है, इस कार्यक्रम में बताया गया। उन्होने कहा कि इस पूरे कार्यक्रम को सफल बनाने मे जिला आपदा प्रबंधन प्रधिकरण एवं एन0डी0आर0एफ0 की टीम काफी मेहनत किया। उन्होने एनडीआरएफ के कमाण्डर पी0एल0शर्मा से कहा कि इस तरह के कार्यक्रम सभी तहसीलो, जहां मल्टी स्टोरी बिल्डिगिंग, स्कूलो आदि में आयोजित होनी चाहिये। उन्होने आकाशीय बिजली के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि बिजली चमकने पर आप किसी पेड के नीचे न रहे, किसी सुरक्षित बिल्डिगिंग के नीचे तुरन्त चले जाये। उन्होने कार्यक्रम में उपस्थित सभी अधिकारियों से कहा कि अपने कार्यालय में डिजास्टर से संबंधित चीजो के प्रति जागरुकता रखें। उन्होने सेन्ट्रल एकाडेमी के प्रिंसिपल व प्रबंधक को धन्यवाद दिया, जिन्होने कोविड-19 के दौरान काफी सहयोग किया। उन्होने एन0डी0आर0एफ0 सहित सभी जुडे अधिकारियों को धन्यवाद दिया।


मेगा माॅकड्रिल को तीन चरणों में एन0डी0आर0एफ0 के कैप्टन डी0पी0 चन्द्रा द्वारा क्रमबद्ध तरीके से कराया गया। एन0डी0आर0एफ0 एवं फायर बिग्रेड के जवानो द्वारा तत्परता व फुर्ती को प्रदर्शित करते हुए पूर्वाभ्यास कार्यक्रम में जहां छतो से घिरे लोगो को निकालने, घायलो को इलाज कराने एवं प्रत्येक स्टोरो में फसे लोगो को खोजबिन की कार्यवाही की गयी, इससे काफी लोग प्रेरित हुए और बताये गये जानकारियों से अवगत हुए। एन0डी0आर0एफ0 द्वारा बचाव कार्य उपरान्त भवन से राष्ट्रीय ध्वज के साथ नीचे आने पर उपस्थित लोगो द्वारा खडे होकर तालियां बजाकर सम्मान किया गया।


कार्यक्रम को एन0डी0आर0एफ0 के डिप्टी कमान्डेन्ट पीएन शर्मा तथा अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व उमेश कुमार मंगला ने सम्बोधित किया।
इसके पूर्व कार्यक्रम का शुभारम्भ सेन्ट्रल एकाडेमी के जूनियर डायरेक्टर अमन आकाश मिश्रा द्वारा बैज लगाकर तथा विद्यालय की प्रधानाचार्य प्रतीमा मिश्रा द्वारा पुष्प प्रदान कर अतिथियों का स्वागत करते हुए किया गया।


इस अवसर पर मुख्य अग्निशन अधिकारी एसएस राय, जिला बेसिक शिक्षक अधिकारी सन्तोष राय, जिला कार्यक्रम अधिकारी कृष्णकान्त राय, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डा0विकास साठे, सीएमएस आनंद मोहन वर्मा, एसडीएम सदर सौरभ सिंह, रुद्रपुर संजीव कुमार उपाध्याय, आपदा प्रबंधन की जिला परियोजना समन्वयक मैत्रेयी मिश्रा, फिल्ड कोआर्डिनेटर बृजेश कुमार पाण्डेय, बिजय प्रताप सिंह, सुमन पाण्डेय, अजीत तिवारी, पिन्टू लाल, जावेद आलम शेख, एनवाईके के वालंटियर्स, भारत स्काउट गाइड के मुन्ना यादव, दुर्गा कुशवाहा, मिन्टू कुशवाहा, सुनिता निषाद, मोनी विश्वकर्मा, अनामिका सिंह सहित कन्ट्रोल रुम प्रभारी के रुप में विकास कुशवाहा सहित अन्य लोग उपस्थित रहे।

विज्ञापन

Multiple Slideshows

विज्ञापन:

विज्ञापन:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here