गबन की आधी धनराशि 1,18,542 को जमा करने का डीएम ने दिया निर्देश


देवरिया टाइम्स

जिलाधिकारी जितेंद्र प्रसाद सिंह ने देसही देवरिया विकासखंड अंतर्गत ग्राम पकड़ी वीरभद्र की तत्कालीन ग्राम प्रधान आशा शाही द्वारा दुरुपयोग की गई धनराशि 2,37,085 रुपए की आधी धनराशि 1,18,542 रुपये को 15 दिन के अंदर ग्राम निधि खाते में जमा करने का निर्देश दिया है। साथ ही उन्होंने कहा है कि जमा नहीं करने की दशा में दुरुपयोग की गई समस्त शासकीय धनराशि की वसूली भू-राजस्व बकाए की भाँति करते हुए विधिक कार्रवाई की जाएगी, जिसका संपूर्ण उत्तरदायित्व संबंधित का होगा। जिलाधिकारी के इस आदेश से शासकीय धन का दुरुपयोग करने वालों में हड़कंप मचा हुआ है।

पकड़ी वीरभद्र ग्राम के ही निवासी नरसिंह प्रताप सिंह द्वारा नोटरी बयान हल्फ़ी के साथ शासकीय धन के दुरुपयोग की शिकायत की गई थी, जिसकी जांच हेतु एक समिति परियोजना निदेशक, अधिशासी अभियंता आरईडी एवं सहायक अभियंता जिला ग्राम विकास अभिकरण को नामित करते हुए गठित की गई थी। इस समिति ने जांचोपरांत अपनी आख्या प्रस्तुत की, जिसमें ग्राम पंचायत पकड़ी वीरभद्र में ₹2,37, 085 की शासकीय धनराशि का दुरुपयोग पाया गया तथा इसके लिए तत्कालीन ग्राम प्रधान आशा शाही को कारण बताओ नोटिस निर्गत कर 15 दिन में स्पष्टीकरण देने हेतु निर्देशित किया गया, किंतु आशा शाही द्वारा स्पष्टीकरण प्रस्तुत नहीं किया गया। इससे स्पष्ट है कि प्रेषित नोटिस में उल्लिखित सभी आरोप उन्हें स्वीकार हैं। यह पुष्टि होने पर जिलाधिकारी द्वारा दुरुपयोग की गई धनराशि की आधी धनराशि जमा करने का निर्देश दिया गया है।

15 दिन की निर्धारित समयान्तर्गत धनराशि जमा नहीं किए जाने पर दुरुपयोग की गई संपूर्ण राशि की वसूली भू-राजस्व की भाँति किए जाने के साथ ही उनके विरुद्ध विधिक कार्यवाही करने का निर्देश भी दिया है।

जिलाधिकारी के इस कार्यवाही से शासकीय धन का दुरुपयोग करने वालों में खलबली का माहौल है। जिलाधिकारी ने कहां है कि जहां कहीं भी व जिस स्तर पर भी शासकीय धन का दुरुपयोग मिलेगा, इसमें संलिप्त किसी भी व्यक्ति को किसी भी दशा में बख्शा नहीं जाएगा। उनके विरुद्ध कठोरतम कार्यवाही करते हुए दुरुपयोग की गई धनराशि की वसूली भी की जाएगी।

spot_img

Similar Articles

Advertismentspot_img

ताजा खबर