डीएम ने वैक्सीनेशन कार्यों का सघन दौरा कर जाना हाल,पूरे मनोयोग से कार्य किए जाने का दिया निर्देश



देवरिया टाइम्स। जिलाधिकारी आशुतोष निरंजन चल रहे कोविड-19 वैक्सीनेशन कार्यों का सघन दौरा कर वास्तविक स्थितियों को जाना। इस दौरान उन्होंने सदर एवं रुद्रपुर तहसील अंतर्गत लगभग दर्जनभर वैक्सीनेशन सेंटर का निरीक्षण किया। खामियों पर कड़ी नाराजगी जताई। सुधार लाए जाने के कड़े निर्देश दिए। उन्होंने खंड विकास अधिकारी रुद्रपुर की उदासीनता पाए जाने पर उनका स्पष्टीकरण तलब किए जाने एवं एक विद्यालय को नोटिस दिए जाने का भी निर्देश दिया। उन्होंने स्पष्ट रूप से निर्देश देते हुए कहा कि प्रथम व द्वितीय डोज से कोई भी व्यक्ति एवं 15 से 18 वर्ष के विद्यार्थी/ युवा किसी भी दशा में वैक्सीनेशन से वंचित नहीं होने चाहिए, इसके लिए उन्होंने सभी लगे स्वास्थ्य कर्मियों, आंगनबाड़ी, आशा, राजस्व, पंचायत सहायक, लेखपाल आदि को पूरे मनोयोग से कार्य किए जाने का निर्देश दिया। कहा कि गांव में आयोजित वैक्सीनेशन केंद्र के कर्मी अपरान्ह 2:00 बजे के बाद घर घर जाए और छूटे हुए लोगों का वैक्सीनेशन सुनिश्चित करेंगे। इसमें किसी भी स्तर पर कोई शिथिलता कतई बर्दाश्त नहीं होगी।


जिलाधिकारी श्री निरंजन आज सबसे पहले मंजूर अली इंटरमीडिएट कॉलेज करजहां पहुंचे जहां वैक्सीनेशन की स्थिति संतोषजनक नहीं पाए जाने पर कड़ी नाराजगी व्यक्त की तथा उन्होंने जिला विद्यालय निरीक्षक को इस विद्यालय को नोटिस जारी किए जाने का निर्देश दिया। साथ ही कहा कि जिन विद्यालयों में वैक्सीनेशन सेंटर आयोजित हो उसमें अध्यापकों की ड्यूटी लगाई जाए और सफल पर्यवेक्षण व अनुश्रवण सुनिश्चित कराया जाए। इसके उपरांत वे ग्राम पंचायत नगरौली पहुंचे जहां प्रथम डोज से छूटे हुए 7 व्यक्तियों का वैक्सीनेशन राशन लेने आने के पूर्व ही कोटेदार द्वारा कराया गया। यह भी निर्देश दिया गया कि राशन लेने आने वाले व्यक्तियों का वैक्सीनेशन कार्ड अवश्य ही देखा जाए। जिनके द्वारा अभी तक टीका न लगवाया गया हो उन्हें वैक्सीन लगवाने के उपरांत ही राशन दिए जाएं।तत्पश्चात जिलाधिकारी प्राथमिक विद्यालय पथरहट का भी निरीक्षण किया और निर्देश दिया कि पूरा गांव वैक्सीनेशन से संतृप्त हो, यह सुनिश्चित किया जाए। इसके उपरांत प्रताप मेमोरियल इंटर कॉलेज कालावन में चल रहे वैक्सीनेशन कार्य का जायजा लिया। यहां भी टीकाकरण कार्य संतोषजनक नहीं पाए जाने पर कड़ी नाराजगी जताई। उन्होंने ग्राम पंचायत रमईपुर, गनियारी, जमीरा, गायघाट में चल रहे वैक्सीनेशन कार्य का भी निरीक्षण कर आवश्यक निर्देश दिए। जय श्री देवी उच्चतर माध्यमिक विद्यालय दीनापार की टीकाकरण कार्य के निरीक्षण के दौरान उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायत के अंतर्गत आने वाले सभी राजस्व ग्रामों को भी वैक्सीनेशन से संतृप्त करें।कोई भी व्यक्ति न छूटे इसका ध्यान विशेष रूप से दे।उन्होंने विशेष सत्र के तहत ईट भट्ठा घुमंतू प्रवृति के लोगों के लिए मोबाइल टीम लगाकर उनका भी वैक्सीनेशन कराए जाने के कड़े निर्देश दिए। उन्होंने एसडी बालिका इंटर कॉलेज लक्ष्मीपुर का भी निरीक्षण कर वैक्सीनेशन किए जाने को कहा।
इस दौरान खंड विकास अधिकारी रुद्रपुर विवेकानंद मिश्र द्वारा ग्राम पंचायत सहायक, आंगनबाड़ी व आशा कार्यकर्तियो एवं कोटेदारों द्वारा की गई वैक्सीनेशन से वंचित लोगों की सर्वे सूची संग्रहित कर उपलब्ध नहीं कराए जाने की लापरवाही पर जिलाधिकारी ने कड़ी नाराजगी जताते हुए उनका स्पष्टीकरण तलब किए जाने का निर्देश दिया। जिलाधिकारी ने स्पष्ट रूप से यह निर्देश दिया कि 2:00 बजे के उपरांत वैक्सीनेशन टीम छूटे हुए लोगों के घरों तक जाकर टीकाकरण करेगी ताकि शत प्रतिशत सभी लोगों को टीकाकरण से आच्छादित किया जा सके।
जिलाधिकारी ने कहा कि 15 से 18 वर्ष के विद्यार्थियों युवाओं को कोवैक्सीन का टीका लगाया जाना है,जो तैयार माइक्रोप्लान अनुसार स्कूलों पर एव निर्धारित अस्पतालों, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर लगाए जाने की व्यवस्था की गई है, जहां ऐसे विद्यार्थी युवा पहुंच कर अपना टीकाकरण कराएं। इसके अलावा गांव में आयोजित टीकाकरण केंद्र में कोवीशिल्ड की प्रथम व द्वितीय डोज लगाई जा रही है। छूटे हुए व्यक्ति अवश्य ही अपना टीकाकरण कराए।
इस निरीक्षण के दौरान उप जिलाधिकारी रुद्रपुर संजीव कुमार उपाध्याय, डीआईओएस देवेंद्र कुमार गुप्ता, जिला पूर्ति अधिकारी विनय कुमार सिंह, एमवाईसी रुद्रपुर दिनेश कुमार यादव सहित अन्य संबंधित स्वास्थ्य कर्मी व विभागों के अन्य अधिकारी कर्मचारी ग्राम प्रधान गण आदि उपस्थित रहे।

spot_img

Similar Articles

Advertismentspot_img

ताजा खबर