जिलाधिकारी ने किया खरवनिया में छोटी गण्डक नदी पर निर्माणाधीन सेतु का निरीक्षण, कार्य शीघ्र पूर्ण करने के दिये निर्देश


देवरिया टाइम्स

जिलाधिकारी जितेंद्र प्रताप सिंह एवं पुलिस अधीक्षक संकल्प शर्मा ने आज खरवनिया में छोटी गंडक नदी पर उत्तर प्रदेश राज्य सेतु निगम द्वारा निर्माणाधीन सेतु का निरीक्षण किया। जिलाधिकारी ने अभी तक एप्रोच मार्ग निर्माण का कार्य प्रारंभ न होने पर नाराजगी व्यक्त की। जिलाधिकारी ने बताया कि साढ़े 12 करोड रुपए की लागत से बनने वाले उक्त सेतु के निर्माण होने की तिथि दिसंबर 2022 निर्धारित है। किंतु, अभी तक एप्रोच मार्ग बनाने का कार्य प्रारंभ नहीं हुआ है। जिलाधिकारी ने पुल के पिलर की फिनिशिंग पर भी सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि सेतु निर्माण कार्य निर्धारित एस्टीमेट एवं डिजाइन के अनुसार ही किया जाए। जिलाधिकारी ने कहा कि एप्रोच मार्ग बनाने का कार्य प्रत्येक दशा में दिसंबर 2022 में समाप्त कर लिया जाए और जनवरी के प्रारंभ में पुल से आवागमन प्रारंभ किया जाए। उन्होंने कहा कि पुल प्रारंभ होने के उपरांत उत्तर प्रदेश एवं बिहार राज्य दोनों के नागरिकों को आवागमन में सुविधा होगी।

जिलाधिकारी ने किया प्राथमिक विद्यालय का निरीक्षण, मिड-डे मील की परखी गुणवत्ता

जिला अधिकारी जितेंद्र प्रताप सिंह एवं पुलिस अधीक्षक संकल्प शर्मा ने आज मझौली राज स्थित प्राथमिक विद्यालय वार्ड नंबर-11 का निरीक्षण किया। विद्यालय में सहायक अध्यापक पुष्पा यादव तथा शकीना बानो ने जिलाधिकारी को बताया कि विद्यालय में कुल 205 बच्चों का नामांकन है, जिसमें से 74 बच्चे आज विद्यालय आये हैं। डीएम जिस समय विद्यालय पहुंचे उस समय बच्चे मिड-डे मील खा रहे थे। मैन्युअल के अनुसार आज सोयाबीन युक्त तहरी बनी थी। बच्चों ने डीएम को खाने का स्वाद अच्छा बताया। डीएम ने मिड-डे मील बनाने में प्रयोग की जा रही सामग्रियों की गुणवत्ता के विषय में भी जानकारी प्राप्त की। उन्होंने बच्चों में बिस्कुट भी वितरित की। जिलाधिकारी ने विद्यालय में नामांकित बच्चों की उपस्थिति बढ़ाने के संबन्ध में आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिए।

spot_img

Similar Articles

Advertismentspot_img

ताजा खबर