जिलाधिकारी ने किया प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, बैतालपुर का औचक निरीक्षण,पाँच डॉक्टर सहित 20 स्वास्थ्यकर्मी मिले अनुपस्थित


देवरिया टाइम्स।

जिलाधिकारी जितेंद्र प्रताप सिंह ने आज प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, बैतालपुर का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण में पाँच डॉक्टर सहित 20 स्वास्थ्यकर्मी अनुपस्थित मिले। जिलाधिकारी ने अनुपस्थित स्वास्थ्यकर्मियों का एक दिन के वेतन कटौती के साथ स्पष्टीकरण तलब किया है।

जिलाधिकारी आज अपराह्न 1:50 पर बैतालपुर स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचे। उन्होंने सर्वप्रथम उपास्थिति पंजिका की जाँच की जिसमें डॉ सरफराज आलम, डॉ जयप्रकाश सिंह, डॉ अमृता गुप्ता, डॉ जमाल अहमद सिद्दिकी, डॉ अल्पना राव, अलमीन अली, सुनीता निषाद, अजीत प्रताप सिंह, अल्का यादव, सीमा रानी, अवनीश त्रिपाठी, राधेश्याम यादव, प्रदीप कुमार सिंह, आद्या कुमार पांडेय, आनंद सोनकर, ओम प्रकाश भारती, ज्योति प्रजापति, प्रियंका गौतम और पूनम द्विवेदी अनुपस्थित मिली। इनमें से अधिकांश लोग सुबह उपास्थिति पंजिका में हस्ताक्षर करने के बाद नदारद हो गए।

प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के एमओआईसी डॉ विवेक कुमार ने जिलाधिकारी को बताया कि आरबीएसके के डॉक्टर सीएमओ कार्यालय गए हुए हैं, किंतु अभी तक लौट के नहीं आये हैं। इस पर जिलाधिकारी ने मूवमेंट रजिस्टर मांगा। मूवमेंट रजिस्टर पर आज की तारीख पर ओवर राइटिंग दिखी। साथ ही 25 के बाद सीधे ओवर राइटिंग युक्त 30 तारीख का अंकन मिला, जिस पर जिलाधिकारी ने कड़ी फटकार लगाई और ओवर राइटिंग की जाँच हेतु एसडीएम मंजूर अहमद अंसारी की अध्यक्षता में एक जाँच समिति बनाने का निर्देश दिया।

इसके पश्चात जिलाधिकारी ने नियमित टीकाकरण की स्थिति जानी। बताया गया कि आज स्वास्थ्य केंद्र पर कुल 9 बच्चों का टीकाकरण किया गया है। स्वास्थ्य केंद्र पर तैनात आयुष्मान मित्र द्वारा आज तीन आयुष्मान कार्ड बनाये गए। डीएम ने आयुष्मान मित्र को योजना का प्रचार-प्रसार करने और अधिक से अधिक लोगों का आयुष्मान कार्ड बनाने का निर्देश दिया।

जिलाधिकारी ने ओपीडी रजिस्टर का अवलोकन भी किया जिसके अनुसार आज कुल 22 मरीजों ने स्वास्थ्य केंद्र पर परामर्श प्राप्त किया। उन्होंने ओपीडी की कम संख्या पर असंतोष व्यक्त किया और कहा कि यदि प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र अपनी ओपीडी संख्या बढ़ाएं तो जिला अस्पताल पर मरीजों का दबाव कम होगा। जिलाधिकारी ने प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र स्थित विभिन्न वार्डों का भी निरीक्षण किया और कई तरह की अवस्थाएं मिलने पर नाराजगी व्यक्त की उन्होंने एमओआईसी को शीघ्र ही सभी समस्याओं को दूर करते हुए परिसर को और अधिक स्वच्छ बनाने का निर्देश दिया।

spot_img

Similar Articles

Advertismentspot_img

ताजा खबर