देवरिया:संविदा नियमावली और निजीकरण पर बेरोजगारों का प्रदर्शन

विज्ञापन

देवरिया टाइम्स


यूपी में बढ़ती बेरोजगारी और सरकारी ख और ग ,घ के पदों पर नियुक्ति के लिए संविदा नियमावली 2020 के सरकार के प्रस्ताव पर देवरिया में विरोध प्रदर्शन हुआ।
छात्र और बेरोजगार युवा सुभाष चौक पर एकत्रित हुए। वहां से पैदल हाथ मे तख्तियां लिए हुए छात्र कलेक्ट्रेक्ट पहुचे और वहा मुख्यमंत्री को संबोधित जिलाधिकारी अमित किशोर को ज्ञापन दिए। युवाओं का कहना है कि अगर यह नीति लागू होती है तो भ्रष्टाचार को बढ़ावा मिलेगा और बेरोजगारी बढ़ेगी। इस दौरान रामेश्वर, आकाश, धीरज ,अविनाश मणि, राधा जायसवाल, स्मृति भारती, मनीष दुबे ,आशुतोष,हेमन्त,मनीष सहित सैकड़ों युवा मौजूद रहे।


क्या है पूरा मामला
यूपी सरकार के कार्मिक विभाग के द्वारा एक प्रस्ताव संविदा नियमावली 2020 लाने की तैयारी है जिसमें नौकरी मिलने पर 5 वर्ष तक संविदा पर कार्य करना होगा जिसके दौरान हर छह माह पर परीक्षा देनी होगी और उसमें 60 % अंक लाना अनिवार्य होगा अगर ऐसे नही करते है तो स्वयं बाहर हो जाएंगे ।
युवाओं को यह होगी दिक्कत
अगर मान लिया जाय कि कोई युवा तीस वर्ष की अवस्था मे नौकरी पाता है तो 5 साल तक संविदा पर कार्य करते हुए वह 35 वर्ष का हो जाएगा और अगर उस दौरान हुए परीक्षा में अगर आसफल होता है तो बाहर हो जाएगा उस समय न तो किसी अन्य नौकरी के लिए उम्र होगी और ना ही कोई दूसरा काम और बेरोजगार हो जाएगा। इस दौरान भ्रष्टाचार औऱ सीनियर अधिकारियों द्वारा कर्मचारियों को प्रताड़ित किया जा सकता है।

विज्ञापन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here