देवरिया:धूमधाम से मना शहीदी दिवस



देवरिया टाइम्स।शुक्रवार  को न्यू कॉलोनी देवरिया स्थित गुरुद्वारा सिंह सभा में सिखों के पांचवें गुरु *गुरु अर्जुन देव जी* का पावन शहीदी दिवस मनाया गया।
इस दौरान सुबह 10:00 बजे से अपराहन 1:00 बजे तक बड़ी संख्या में उपस्थित संगत द्वारा सुखमानी साहब के पाठ के साथ सहज पाठ की संपूर्ण समाप्ति की गई और तत्पश्चात शबद-कीर्तन के बाद गुरुद्वारे में अटूट लंगर चला।

ग्रंथी दामोदर सिंह जी ने उपस्थित जनसमूह को गुरु अर्जुन देव जी के जीवन पर प्रकाश डालते हुए बताया कि सिखों के पांचवें गुरु श्री गुरु अर्जुन देव जी का आज 03 जून को बलिदान दिवस है। आज के दिन लाहौर में भीषण गर्मी के दौरान जहांगीर ने उन्हें ‘यासा व सियास्त’ कानून के तहत लोहे की गर्म तवे पर बिठाकर सिर पर गर्म पानी और गर्म रेत में डालकर शहीद कर दिया गया।

‘यासा व सियास्त’ कानून के अनुसार किसी व्यक्ति का रक्त धरती पर गिराए बिना उसे यातनाएं देकर शहीद कर दिया जाता था। उन्होंने कहा कि गुरु अर्जुन देव जी को सिख धर्म का पहला शहीद, और ‘शहीदों का सरताज’ कहा जाता है।

गुरूजी ने श्री गुरु ग्रंथ साहिब का संपादन किया था और स्वर्ण मंदिर की नींव रखी थी।

इस दौरान एनसीसी के अधिकारी कर्नल रणधीर सिंह, लेफ्टिनेंट कर्नल ए.के. सिंह, सूबेदार अजीत सिंह, नायब सूबेदार राजविंदर सिंह, नायब सूबेदार बलजीत सिंह, विमल मनोरम, फूड आफिसर श्री शिवेन्द्र गुप्ता, डॉ विपिन बिहारी शर्मा, माता दर्शन कौर, चरनजीत कौर, और  सिख संगत, सिंधी संगत के अलावा स्थानीय जनमानस ने बड़ी संख्या में लंगर छका।

spot_img

Similar Articles

Advertismentspot_img

ताजा खबर